जिला शांति समिति के बैठक में डीएम ने कहा कि रामनवमी त्यौहार में न हो आचार संहिता का उलंघन

जिला शांति समिति के बैठक में डीएम ने कहा कि रामनवमी त्यौहार में न हो आचार संहिता का उलंघन

 

दरभंगा:

जिला पदाधिकारी दरभंगा द्वारा रामनवमी त्यौहार को पूर्ण शांतिपूर्ण संपन्न कराने हेतु जिले के तमाम खास एवं सामान्य लोगों से अपील किया है। उन्होंने कहा कि इस वर्ष का यह महात्यौहार लोकसभा चुनाव के ठीक बीच में पड़ा है। पूरे जिला क्षेत्र में आदर्श आचार संहिता अभी प्रभावी है।

इसलिए रामनवमी त्यौहार को पूर्ण शांतिपूवर्क एवं सौहार्दपूर्ण वातावरण में मनाकर जिलावासी को एक अनुठा मिसाल पेश करने का मौका है। उन्होंने कहा कि जिला शांति समिति, रामनवमी समिति एवं मुहर्रम समिति आदि की पूर्व में भी कई बैठके आयोजित की गई थी और समिति के सदस्यों को प्रशासन की भावना से अवगत करा दिया गया था।

उन्होंने कहा कि इस पर अमल की जानी चाहिए। डी.जे. बजाने, अश्लील गाने बजाने पर पूर्ण पाबंदी रहेंगी। रामनवमी के झाँकी में कोई पार्टी या व्यक्ति राजनीतिक लाभ लेने की कोशिश नही करेंगे। उन्होंने स्पष्ट किया कि कोई भी राजनीतिक व्यक्ति धार्मिक कार्यकलापों में शरीक हो सकता है लेकिन उसमें राजनीतिक लाभ यथा चुनाव प्रचार की बातें कदापि नहीं हो। वे अम्बेदकर सभाकक्ष में आयोजित जिला शांति समिति की बैठक में बोल रहे थे। बैठक में उपस्थित वरीय पुलिस अधीक्षक ने कहा कि लोकसभा चुनाव के अवसर पर भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार आदर्श आचार संहिता का अनुपालन कराना प्रशासन का मूल दायित्व है।

इसलिए जनता को प्रशासन की भावना को समझना चाहिए और रामनवमी त्यौहार को शांतिपूर्ण सम्पन्न कराने में सभी को सहयोग करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि रामनवमी जुलूस में कोई गैर-कानूनी या नियम विरूद्ध कार्य होने पर प्रशासन दोषी व्यक्तियों के विरूद्ध कार्रवाई करने के लिए बाध्य होगा। उन्होंने कहा कि प्रशासन पूरे समय चौकस रहेगा। छोटी-छोटी घटनाओं पर भी प्रशासन की पैनी नजर रहेगी। जगह-जगह पर सी.सी.टी.वी. कैमरे लगाये गये हैं और वीडियोग्राफी टीम की तैनाती की गई है।

अगर कोई विधि-व्यवस्था या माहौल को बिगाड़ने की कोशिश करेगा तो प्रशासन उसके खिलाफ सख्ती से पेश आयेगा। इसके पूर्व जिला शांति समिति के सदस्यों द्वारा रामनवमी त्यौहार को शांतिपूर्ण संपन्न कराने का भरोसा दिया गया और उनके द्वारा कई महत्वपूर्ण सुझाव दिया गया। जिस पर डीएम एवं एसएसपी द्वारा तुरंत संज्ञान लिया गया। इसमें सभी महत्वपूर्ण चौक-चौराहों व जुलूस निकालने के रास्तों पर पुलिस एवं पदाधिकारी की पर्याप्त संख्या में मौजूदगी, पानी के टैकर की व्यवस्था, फायर टेंडर की तैनाती, शहर के व्यस्ततम क्षेत्रों में अतिक्रमित स्थलों को मुक्त कराने, जगह-जगह पर स्टैटिक मेडिकल यूनिट की तैनाती करने आदि शामिल है।

जिला पदाधिकारी एवं एसएसपी ने सभी सुझावों पर अमल करने हेतु शांति समिति के सदस्यों को विश्वास दिलाया। जिला के शांति समिति के सदस्यों के एक महत्वपूर्ण सुझाव पर रामनवमी जुलूस के दौरान निकलने वाली झाँकी का प्रशासन द्वारा निर्माण के समय ही निरीक्षण कर लिया जायेगा ताकि बाद में कोई विवाद की स्थिति उत्पन्न न हो।

इस बैठक में जिला पदाधिकारी, वरीय पुलिस अधीक्षक, नगर पुलिस अधीक्षक, नगर निगम के मेयर, नगर आयुक्त, अपर समाहर्त्ता (विभागीय जाँच) सदर एसडीओ एवं एसडीपीओ, सभी थाना प्रभारी सहित जिला शांति समिति के सदस्य उपस्थित थे। बैठक का संचालन सदर एसडीओ, दरभंगा श्री राकेश कुमार गुप्ता ने किया।

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments