बड़ी खबर:- अब एयरटेल भी बंद करने जा रही 3जी सेवा

बड़ी खबर:- अब एयरटेल भी बंद करने जा रही 3जी सेवा

पंकज सिंह यादव

नई दिल्ली:-

भारतीय एयरटेल लंबे समय से इंडियन टेलीकॉम मार्केट में अपनी सेवाएं दे रही है। देश में इंटरनेट की शुरूआत से लेकर आज 4G तक एयरटेल ने लगातार अपने उपभोक्ताओं को बढ़िया सर्विस देने का सफल प्रयास किया है। एयरटेल देश की पहली निजी टेलीकॉम कंपनी है जिसने इंडिया में 3G नेटवर्क की शुरूआत की थी, कंपनी ने 3G नेटवर्क को बेंगलुरु से शुरू किया था। जो आज देश के सभी कोनों में मौजूद है, लेकिन अब एयरटेल ने अपनी 3G सर्विस को बंद करने की घोषणा कर दी है। कंपनी ने देश में अपने 3G नेटवर्क को हटाना शुरू कर दिया है और एयरटेल के इस कदम से इंडियन टेलीकॉम मार्केट की पूरी सूरत बदलने वाली है।

एयरटेल ने घोषणा कर दी है कि कंपनी इंडिया में अपनी 3G सर्विस को बंद करने जा रही है। एयरटेल ने 3G नेटवर्क हटाने की शुरूआत कलकत्ता से की है। कंपनी ने बताया है कि कलकत्ता में एयरटेल की 3G टेक्नोलॉजी को हटाने का काम शुरू हो गया है जो कुछ ही दिनों में पूरी तरह से संपन्न कर दिया जाएगा। एयरटेल द्वारा कलकत्ता से 3G हटाए जाने की बाद वहां इस कनेक्टिविटी पर कोई भी फोन व सिम कार्ड नहीं चलेगा। एयरटेल का कहना है कि 3G सर्विस हटाए जाने के साथ ही इसे 4G नेटवर्क पर शिफ्ट कर दिया जाएगा।

एयरटेल केअनुसार बताए गए सर्किल में 3G को 4G नेटवर्क पर अपग्रेड किया जाएगा। अभी तक कंपनी सर्किल में 3G नेटवर्क देने के लिए 900 MHz band spectrum का यूज़ कर रही थी,लेकिन अब 3जी नेटवर्क को बंद करने के बाद इन्हीं बैंड स्पेक्ट्रम को नए सिरे से फ्रेम किया जाएगा। Airtel का कहना है कि 900 MHz फ्रीक्वेंसी पर चलने वाले इन band spectrum की फ्रीक्वेंसी में कोई तब्दिली नहीं की जाएगी और 900 MHz पर ही कंपनी 4G कनेक्टिविटी उपलब्ध कराएगी।

यह है Airtel का प्लान-

3G के लिए यूज़ हो रहे 900 MHz band spectrum को अपग्रेड करने के लिए Airtel कंपनी L900 टेक्नोलॉजी का यूज़ करेगी। इस तकनीक के जरिये स्पेक्ट्रम बैंड कर फ्रिक्वेंसी समान रहेगी लेकिन इसी फ्रिक्वेंसी पर 3G की बजाय 4G सिग्लन मिलेंगे। आपको थोड़ा समझा दें कि किसी भी बैंड स्पेक्ट्रम की ​फ्रिक्वेंसी जितनी ज्यादा होती है उसकी पावर उतनी की कम होती जाती है। ऐसे में 900 MHz फ्रिक्वेंसी वाले ये स्पेक्ट्रम ज्यादा पावरफुल तरीके से 4G सिग्नल दे पाएंगे।

गौरतलब है कि एयरटेल अभी 2300 Mhz और 1800 Mhz बैंड पर अपनी 4G सर्विस दे रही थी। वहीं अब 900 MHz फ्रिक्वेंसी वाले बैंड स्पेक्ट्रम भी कलकत्ता में पूरी तरह से 4G नेटवर्क की प्रदान करेंगे। 900 MHz बैंड पर 4G नेटवर्क दिए जाने के घर के अंदर, बेसमेंट में या फिर किसी भी इंडोर जगहों पर फोन नेटवर्क ज्यादा ​​क्लियर व बेहतर तरीके से आएंगे। यानि एक ओर जहां एयरटेल अपनी 3G सर्विस को बंद करेगी वहीं दूसरी ओर एयरटेल नेटवर्क पर 4G सर्विस पहले से ज्यादा फास्ट हो जाएगी।

एयरटेल यूजर्स पर प्रभाव-

कंपनी का कहना है कि एयरटेल द्वारा 3G सर्विस बंद करने से कंपनी के उपभोक्ताओं पर सकारात्मक प्रभाव ही पड़ेगा। कपंनी की ओर से सभी 3G कस्टमर्स को समय दर समय मैसेज व नोटिफिकेशन्स भेजी जाएगी और उन्हें सिम अपग्रेड कराने या मोबाइल हैंडसेट अपग्रेड कराने के लिए सूचित किया जाएगा। वहीं जिन 3जी उपभोक्ताओं के पास पहले से ही 4जी हैंडसेट या सिम है उनके नेटवर्क को अपनेआप ही अपग्रेड कर दिया जाएगा।

आपको बता दें कि एयरटेल की ओर से एक ओर जहां कलकत्ता में 3G सर्विस बंद की जा रही है वहीं दूसरी ओर कंपनी सर्किल में अपनी 2G सर्विस को फिलहाल बरकरार रखेगी। गौरतलब है कि इंडिया में फिलहाल रिलायंस जिओ ही अकेली ऐसी कंपनी है जो सिर्फ 4G सर्विस देती है। वहीं एयरटेल द्वारा 3G पूरी तरह से बंद किए जाने के बाद इस कंपनी के यूजर भी पहले से बेहतर 4G कनेक्टिविटी पाएंगे

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments