आगामी ओलम्पिक खेलों में बेहतर परिणाम के लिए हमारा मंत्र स्पोर्ट्स फिटनेस होगा: खेल सचिव

आगामी ओलम्पिक खेलों में बेहतर परिणाम के लिए हमारा मंत्र स्पोर्ट्स फिटनेस होगा: खेल सचिव

संवाददाता (दिल्ली)

2024 ओलम्पिक्स में 50 स्वर्ण पदक जीतना - माननीय प्रधानमंत्री मोदी का यह सपना पूरा करने और भारत में बुनियादी स्तर पर विश्वस्तरीय फिटनेस ट्रेनिंग को बढ़ावा देने के लक्ष्य से स्पोर्ट्स, फिजिकल एडुकेशन, फिटनेस एण्ड लीज़र स्किल्स काउंसिल (एसपीईएफएल-एससी) और यूरोप एक्टिव (ईए) वर्क फोर्स डेवलपमेंट ने एक सहमति करार पर हस्ताक्षर किए हैं। इस करार का मकसद फिटनेस प्रोफेशनल का नेशनल रजिस्टर तैयार करना है ताकि रोजगार योग्य कार्यबल के विकास और देश के वर्तमान प्रशिक्षण संस्थानों की सांस्थानिक क्षमता विकास के लिए एकजुट प्रयास किए जा सकें।

 

सर्टिफाइड फिटनेस ट्रेनर पूरे देश के स्कूलों में फिटनेस एक्सपर्ट का काम करेंगे। इससे बुनियादी स्तर पर बच्चे खेल और प्रशिक्षण का महत्व समझेंगे। इसके लिए बेहतर तकनीकों का लाभ लिया जाएगा। लोग वैश्विक स्तर पर सेवा देने की व्यक्तिगत क्षमता का विकास करेंगे।

 

2014 ओलम्पिक्स में 50 स्वर्ण पदक जीतने का भारत का सपना पूरा करने में फिटनेस की अहमियत बताते हुए राधे श्याम जुलानिया, सचिव, खेल विभाग, युवा एवं खेल मामला मंत्रालय ने बताया, ‘‘फिटनेस हमेशा से खेल का अभिन्न हिस्सा रहा है। आगामी ओलम्पिक खेलों और अन्य अंतर्राष्ट्रीय टुर्नामेंटों में बेहतर प्रदर्शन की हमारी रणनीति के तहत हम स्पोर्ट्स फिटनेस पर जोर दे रहे हैं। आज के परिदृश्य में इसके लिए बड़े नीतिगत बदलाव करने होंगे। कई ठोस कदम उठाने होंगे। प्रशिक्षण केंद्रों और कोचों के कार्य करने के तरीकों का मानकीकरण करना होगा। इससे हम अंतर्राष्ट्रीय स्तर बरकरार रख पाएंगे और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर मुकाबले में आगे आएंगे।’’

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments