पोलखोल अभियान के क्रम में उठाए गये समस्याओं को डी.एम.ने एक पक्ष में निस्तारित करने का दिया निर्देश

पोलखोल अभियान के क्रम में उठाए गये समस्याओं को डी.एम.ने एक पक्ष में निस्तारित करने का दिया निर्देश

बस्ती हर्रैया

समाज सेवी चन्द्रमणि पाण्डेय सुदामा जी द्वारा जिलाधिकारी कार्यालय पर शासन के दबाव के बाद भी बीते 8नवम्बर को जनहित के 9सूत्रीय मांगों को लेकर किये गये घेराव को जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने गम्भीरता से लेते हुए मुख्यविकास अधिकारी, मुख्य चिकित्साधिकारी, जिलाबेसिकशिक्षा, गन्ना, पंचायत,समाज कल्याण, दिव्यांग,प्रोबेसन अधिकारी व अधिशाषी अभियंता बाढ,लोकनिर्माण, विद्युत,तथा परियोजना निदेशक एन.एच.आई.,सेतुनिगम,ग्रामविकास व कृषि को श्री पाण्डेय द्वारा उठाई मांगों का निस्तारण पन्द्रह दिनों के अन्दर करते हुए कृते कार्यवाही से अवगत कराने का निर्देश दिया है ग्यात हो श्री पाण्डेय ने पोलखोल अभियान के तहत नौसूत्रीय मांगों

के क्रम में 2014से लम्बित निजी विद्यालयों के मान्यता प्रत्यावेदन को निस्तारित कर खण्ड शिक्षाधिकारी हर्रैया को स्थानांतरित करने,टोल चौकडी को हटाते हुए अण्डरपास निर्माण शीघ्र करने,महूघाट विशेषरगंज मार्ग, आदर्श ग्राम अमोढा को जोडने वाले सकरावल चतुर्भुज मार्ग, नन्दनगर चौरी मार्ग, रेवरादास से प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र काशीपुर मार्ग सहित जपद की बदहाल सडकों को सही कराने,किसानों के जिलासहकारी बैंक में जमाधन व गन्ना बकाया भुगतान कराने, पात्रों को पेंशन आवास  दिलाने हेतु ठोस कदम उठाने, कुवानों के जल को विषाक्त बनाने वालों पर कार्यवाही कर दण्डित करने किसानों का पुवाल कोर्ट के निर्देश के क्रम में किसानों को सौ रु.कुन्तल देकर चारे हेतु गौशाला पहुंचाने,झोलाछाप डाक्टरों से पहले हर्रैया स्थिति प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र काशीपुर की भांति चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी के सहारे चिकित्सा व्यवस्था चलाने वाले चिकित्सकों व कर्मचारियों पर कार्यवाही

करने की अपनी मांग के क्रम में लिखित आश्वासन पर डट गये थे धरने को सामाप्त कराते हुए ए.डी.एम.रमेशचन्द्र त्रिपाठी ने कहा था कि पूरा प्रसासन अयोध्या प्रकरण में व्यस्त है निश्चित दिसम्बर प्रथम सप्ताह तक आपकी मांगों पर जिलाधिकारी संग वार्ता कराते हुए समस्या समाधान कराया जायेगा उनके आश्वासन पर श्री पाण्डेय ने कानून व्यवस्था के अनुपालन धरना समाप्त करते हुए कहा था कि यदि तय समय में वार्ता कर समस्याओं का निराकरण नहीं कराया गया तो दिसम्बर क्रांति कर हम कार्यालयों पर ताला जड चक्काजाम व जेल भरो आन्दोलन करेंगें कारण गांधी को राष्टट्रपिता मानने वाले देष में गांधी आन्दोलन को गम्भीरता से नहीं लेता जिसे नवागत जिलाधिकारी ने गम्भीरता से लिया श्री पाण्डेय ने प्रेस विग्यप्ति जारी कर कहा कि देखना है विभागीय अधिकारी समस्या समाधान कितनी गम्भीरता से करते हैं यदि समस्या समाधान नहीं हुआ तो हम अपने संकल्प पर अडिग हैं

Comments