हमीरपुर व राईट टू एजूकेशन फोरम के द्वारा मलाला गल्र्स एजूकेशन एडवोंकेट का प्रशिक्षण आयोजित किया गया

हमीरपुर व राईट टू एजूकेशन फोरम के द्वारा मलाला गल्र्स एजूकेशन एडवोंकेट का प्रशिक्षण आयोजित किया गया

समर्थ फाउन्डेशन, हमीरपुर व राईट टू एजूकेशन फोरम के द्वारा मलाला गल्र्स एजूकेशन एडवोंकेट का प्रशिक्षण आयोजित किया गया।

कुतुबपुर, कुसमरा, पढ़ोरी व गहबरा में प्रशिक्षण कार्यशाला आयोजित की गई। 


प्रशिक्षण कार्यशाला में उपस्थित लडकियों प्रशिक्षित करते हुए समर्थ फाउण्डेशन के देवेन्द्र गाॅधी ने कहा कि मलाला ने विश्वव्यापी शिक्षा अभियान लडकियों की शिक्षा के लिये संचालित किया है। इस अभियान का मुख्य मकसद हर लड़की पढ़ सके और लड़कियों की पढ़ाई में आ रही समस्त बाधाओं को सरकार व समाज मिलकर दूर करें।


उन्होने कहा कि शिक्षा से जीवन जीने के कला निखरती हैं। शिक्षा हमें हर विषम परिस्थितियों से लड़ने का हुनर देती हैं। शिक्षा से आगे बढ़ने व सही गलत के निर्णय लेने की क्षमता आती हैं। शिक्षा  अमूल्य निधि है। हमीरपुर में 20 प्रतिशत लडकियों ने अपनी पढाई इन्टरमीडिएट की शिक्षा पूरी करने के पहले छोड़ दी है। इन्हे वापिस शिक्षा की मुख्यधारा से जोड़ने के लिये सभी को प्रयास करने होगे। इस मुहिम में लड़कियों को आगे आना होगा। ग्राम स्तर पर शिक्षा सभा का आयोजन करके सभी को जागरूक करने को प्रयास किया जायेगा।


समर्थ फाउन्डेशन के शिवकुमार के द्वारा बताया गया कि शिक्षा सम्मान व पहचान के साथ जीवन के अवसरों को सृजन करता हैं। हर अभिभावक को अपनी लडकियों को शिक्षित करने के लिये भरसक पहल करनी होगीं।  


संस्था से जुड़े दुर्गेश कुमार ने कहा कि गाॅव गाॅव लोगों को जागरूक करने के लिये शिक्षा सभा का आयोजन किया गया जायेगा जिसका मुख्य मकसद लोगो को लड़कियों के शिक्षा के प्रति संवेदित करना है। सभी लडकियाॅ कम से कम इन्टरमीडिएट तक पढ़ सके इसके लिये प्रयास किये जा रहे है। 


इस दौरान महेश, सुनील, सरिता, ज्योति, रूबी, कल्पना, अंकिता, राधा, सोमश्री, अनामिका, रूपा, गौरीशंकर, गुड़िया, अन्जना, कोमल, श्यामकली, सरिता, सोनल, आकाक्षा, काजल, उर्मिला, सन्तोषी, नम्रता, सूरजमुखी, सरिता, मालती, अंजली, रचना, अंजना, आरती, आदि लड़कियाॅ उपस्थित रही।

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments