सर्जरी पर अब भी भारी डग्गेमारी, झोलाछाप तिकड़ी के भरोसे चल रहे हैं कई निजी चिकित्सालय

सर्जरी पर अब भी भारी डग्गेमारी, झोलाछाप तिकड़ी के भरोसे चल रहे हैं कई निजी चिकित्सालय

फतेहपुर - 

फतेहपुर में स्वास्थ्य व्यवस्था में हो रहे खिलवाड़ में अहम भूमिका कई निजी चिकित्सालयों की है जो बिना किसी मानक के फर्जी पैनल के आधार पर रजिस्ट्रेशन करवा कर चल रहे हैं, मेडिकल क्षेत्र में कम समय मे अधिक कमा लेने की चक्कर मे कई तथाकथित इसे बदनाम कर रहे हैं वहीं इनको बढ़ावा देने में सरकारी डॉक्टरों का भी अहम रोल है,

ये तो आप जानते ही हैं कि शहर में प्राइवेट सर्जन इक्का दुक्का हैं जो कुछ पूर्व निश्चित नर्सिंग होमो में ही जाते हैं बचे हुए व नर्सिंग होम चलवाने में इस झोलाछाप तिकड़ी की अहम भूमिका है। आपको बता दें कि अवनी नर्सिंग होम में छापा पड़ने और डॉक्टर श्री सिंह के जेल जाने के बाद से पूर्व इन झोलाछापों को कुछ नर्सिंग होम वाले ही भाव देते थे

लेकिन जैसे ही एक प्रशिक्षित डॉक्टर जेल गए इन झोलाछापों की चांदी हो गई वैसे वह डिग्री के दुरुपयोग के मामले में जेल जरूर गए मगर अभी तक उस प्रकरण से वह डॉक्टर सबक नहीं ले पाए जो अपनी डिग्री का बेजा इस्तेमाल कर रहे हैं। 

           वैसे सूत्रों की माने तो एक हाल ही में चर्चित हुआ आयुर्वेद का तथाकथित डॉक्टर, पत्थरकटा के समीप का एक चर्चित डॉक्टर और एक पूर्व सरकारी डॉक्टर का ड्राइवर इन दिनों शहर में कई महीनों से घूम घूमकर सर्जरी में डग्गेमारी कर रहे हैं चर्चा है कि इन्होंने प्रशिक्षित डॉक्टरों से भी अधिक अपना रेट बढ़ा दिया है।

लेकिन आश्चर्य है स्वास्थ्य विभाग के मुखिया की कि उन्हें यह डग्गामारी क्यों नज़र नहीं आ रही। जबकि ऐसे डॉक्टरों की वजह से ही पेशा बदनाम हो रहा है और लोग इस झोलाछाप तिकड़ी के मायाजाल में फंसकर अपने धन और जन दोनो से हाथ धो रहे हैं।

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Loading...
Loading...

Comments