गणेश महायज्ञ आयोजन पंडाल में लगी आग

फतेहपुर खबर सनी गोस्वामी / सुशील मिश्रा

गणेश महायज्ञ आयोजन पंडाल में लगी आग हवन पंडाल में हवन हो गया

पूरे पंडाल का आपको बता दें कि जब कहीं आग लगती है तो आग अपना मुंह इतना फैला देती है कि हर चीज को अपने अंदर समाने की कोशिश करती हैं कहीं-कहीं पर लोग उस पर काबू पा जाते हैं तो कहीं-कहीं पर कबूल नहीं पा पाते और सब कुछ जलकर खाक हो जाता है

आज भी एक ऐसी ही घटना हुई जहां पर शुरू में तो लोगों ने सोचा कि हम आग पर काबू पा लेंगे लेकिन ऐसा नहीं हो पाया और सब कुछ जलकर राख हो गया । मामला फतेहपुर जिले के अयोध्या कुटी मंदिर का है जहां पर 4 फरवरी 2019 से बसंत पंचमी तक गणेश महायज्ञ का आयोजन किया गया था तथा आज बसंत पंचमी के दिन यज्ञ पूर्णाहूति के बाद भंडारे का आयोजन किया जाना था लेकिन उससे पहले ही यज्ञ के दौरान किसी तरह से पंडाल में आग लग गई और आग लगने से समस्त पंडाल जलकर राख हो गया

मौके पर मौजूद लोगों में किसी को भी कोई नुकसान नहीं हुआ है लेकिन करीब ₹2 लाख का नुकसान हो गया है जिसमें से 50 हजार का नुकसान तो उस साउंड सिस्टम मारेगा है जिसने पूरे पंडाल में बिजली व्यवस्था से साउंड स्पीकर , माइक और बिजली की व्यवस्था कर रखी थी । आग लगने के बाद लोगों ने फायर ब्रिगेड को जानकारी दी मौके पर आई फायर ब्रिगेड ने आनन-फानन में पूरे पंडाल को बुझाने की कोशिश की लेकिन जब तक वह पंडाल को बुझा पाती तब तक सब कुछ चल चुका था

सारा सामान जलकर खाक हो गया था लेकिन अगर पंडाल में पहले से ही आग को बुझाने की उचित व्यवस्था की गई होती तो क्या इतना नुकसान होता क्या इस तरह की घटना शुरू होते ही उस पर काबू नहीं पा लिया जाता । मौके पर मौजूद लोगों ने बताया कि पंडाल के किनारे साइड एक दीपक रखा था जिससे वहां पर रखिए फूहाल में आग लगी और उसके बाद पंडाल ने आग पकड़ ली सभी लोगों ने मिट्टी और पानी से आग बुझाने की कोशिश की लेकिन आग नहीं बुझी तब जाकर उन्होंने फायर ब्रिगेड को जानकारी दी लेकिन अगर पहले से ही फायर ब्रिगेड को जानकारी दे दी जाती

तो इतना नुकसान नहीं होता भगवान का तो शुक्र है कि किसी के जान माल की हानि नहीं हुई केवल सामान ही था सामान तो वापस आ सकता है लेकिन अगर किसी व्यक्ति के हताहत होने की घटना होती तो उसे वापस करना असंभव था ।

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Loading...
Loading...

Comments