गौशाला पर ही नहीं बरातशाला पर भी नज़र आये जानवर भूखे मर रहे घायल जानवर

गौशाला पर ही नहीं बरातशाला पर भी नज़र आये जानवर भूखे मर रहे घायल जानवर

                   रिपोर्ट - सुनील विश्वकर्मा

कुरारा, हमीरपुर-

कुरारा कस्बे की गौशालाओ का बुरा हाल भूखे मर रहे है जानवर मामला ककरऊ ग्राम पंचायत स्थित गौशाला में खाने पीने के इंतजाम ना होने से भूखे मर रहे हैं जानवर वही एक गाय ऐसी हालत पर जिस पर गहरे घाव के जख्म थे।

जिसके लिये ना तो कोई डॉक्टर पहुँचा न सचिव वही राजपूत कर्णीय सेना के सदस्य मोहित सिंह परिहार ने बताया कि गाय करीब पांच दिन से ऐसी ही हालत में घूम रही जिसकी सूचना सचिव, ग्राम प्रधान को दी लेकिन को भी ध्यान नहीं दिया।

 
गांव के ही शिवेंद्र सिंह, भूपेंद्र सिह आदि लोगों ने बताया कि गौशाला पर खाने के लिये तिली की खूखर जो कि खराब पड़ा है उसे ही जानवरों को डाल दिये जाते है जो भी पैसा आता है उसे ग्राम प्रधान व सचिव मिलकर हड़प लेते और गौशाला के अलावा बरातशाला पर भी जानवरों को रखा जाता है जब हमने ग्राम प्रधान लखन लाल से पूछताछ की तो

उन्होने बताया कि मुझे जितना पैसा मिलता हैं उतना लगा देते है और बरातशाला पर जानवरों को इस लिये रखा गया है जानवर बाहर न निकल सके।

आपको बता दे कि गौशाला का निर्माण चलताऊ हालत मे बना दिया गया जिसके न तो सही तरीके से तार की फैंन्सिंग की गई उसमे लगे कटीले तार दो कि बहुत दूरी दूरी पर लगे जिसके कारण जानवर रात्रि में बाहर निकल जाते है और कटीले तारो के कारण जानवर घायल होते रहते हैं ।

गौशाला पर करीब 150 जानवर बंद था कुछ जानवर बरातशाला पर वहीं बरात शाला के अंदर पुराना भूसा पड़ा मिला जो कि करीब दस कुंतल था जो कि पूरी तरह से जानवरो ने नष्ट कर डाला जानवरों को खाने को भी नशीब भी नहीं हुआ।

Comments