पत्रकार के साथ दारोगा ने की अभद्रता की धक्का मुक्की

पत्रकार के साथ दारोगा ने की अभद्रता की धक्का मुक्की
  • मोहल्ले में हो रहे विवाद को लेकर जानकारी मांगने पर नानक चौकी इंचार्ज ने दिया पत्रकार को धक्का

गोला गोकरनाथ खीरी

पूरा मामला जिला लखीमपुर खीरी के थाना कोतवाली गोला गोकरननाथ का है जहां नानक चौकी इंचार्ज ने अपने पुलिसिया व्यक्तित्व का परिचय देते हुए पत्रकार के जानकारी लेने पर उनको जानकारी ना देकर बल्कि उल्टा पत्रकार के साथ अभद्र व्यवहार करते हुए धक्का मुक्की कर डाली।

आपको बताते चलें नगर गोला के मोहल्ला मुन्नू गंज में दो परिवारों के बीच आपसी मामूली से विवाद को लेकर नानक चौकी इंचार्ज करुणेश शुक्ला मौके पर मौजूद थे उसी समय स्थानीय पत्रकार नमाज के लिए निकल रहे थे जब उन्होंने रास्ते में चल रहे विवाद को देखा तो इसकी जानकारी के लिए नानक चौकी इंचार्ज करुणेश शुक्ला से जब पूछा तो चौकी इंचार्ज अपनी पुलिसिया रौब मे बिना पत्रकार को जानकारी दिए उनसे गलत व्यवहार करते हुए पत्रकार को धक्का दे दिया उसके बाद भी जब पत्रकार ने दोबारा पूछने की कोशिश की

तो फिर से पत्रकार को धक्का दे दिया गया और चौकी इंचार्ज अपने को खुद ही जज का काम करते हुए निर्णय ले लिया कि आप गलत पक्ष का साथ दे रहे हैं जबकि मामले से पत्रकार का कोई वास्ता नहीं था इससे पत्रकार बहुत ही आहत है और सभी पत्रकारों के बीच में आक्रोश व्याप्त है।नानक चौकी इंचार्ज करुनेश शुक्ला के द्वारा पत्रकार के साथ बदसलूकी करना कहीं ना कहीं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कहे बयान कि पत्रकारों से अभद्रता करने वाले बक्से नहीं जायेंगे

लेकिन नानक चौकी प्रभारी मुख्यमंत्री के आदेशों का खुलकर विरोध करके सरकार की क्षवि को धूमिल कर रहे है और पत्रकार के मान सम्मान को इनके द्वारा ठेस पहुंचाया जा रहा है और एक बार फिर सरकार और मुख्यमंत्री के आदेशों को उक्त चौकी प्रभारी तार तार करते नजर आ रहे है।

पत्रकार को चौथा स्तंभ माना जाता है लेकिन जब तक करुनेश शुक्ला जैसे चौकी इंचार्ज अपनी चौकी पर लंबे समय से लगे हुए हैं और पत्रकारों से बदसलूकी करेंगे तब तक पत्रकार अपनी कलम का सही तरीके से प्रयोग नहीं कर पाएगा जोकि लोकतांत्रिक देश के लिए एक बड़ा संकट का विषय है।

अब देखना यह है कि क्या इसी तरह पुलिस पत्रकारों से बदसलूकी करती रहेगी या असल में पत्रकार को लेकर सुरक्षा व सम्मान के लिए सरकार व कानून और सख्त कदम उठाएगी और ऐसे चौकी इंचार्ज पर सख्त से सख्त कार्रवाई करेगी जिससे की भविष्य में कभी भी किसी भी पत्रकार के साथ बदसलूकी ना हो सके और समाज को एक स्वतंत्र व निष्पक्ष पत्रकारिता प्राप्त हो सके।

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments