अर्धनिर्माण भवन में संचालित विद्यालय,कभी भी हो सकता बड़े हादसों का शिकार

अर्धनिर्माण भवन में संचालित विद्यालय,कभी भी हो सकता बड़े हादसों का शिकार

                  जिला संवाददाता
                       अतीक राईन
 मनकापुर,गोण्डा-

गोण्डा जनपद के मनकापुर क्षेत्र में शैक्षणिक गतिविधियां जोखिम से भरी नजर आ रही हैं।ग्राम सभा ऐलनपुर में चल रहे टी०आर०एम० इंटर कॉलेज की स्थिति को देखकर इसका अंदाजा लगाया जा सकता है।यहां के होनहार बच्चों के शिक्षा के साथ खिलवाड़ करते हुए विद्यालय एक ऐसे भवन में संचालित किया जा रहा है,जो निमार्णाधीन है।अभी बिल्डिंग का काफी काम अधूरा पड़ा है।विद्यालय में चहारदीवारि पूरी नहीं है और ना ही छत पर बाउंडरीवाल/ रेलिंग लगी है,जो किसी अनहोनी घटना को आमंत्रण दे रहा हैं।जिस ऊपरी मंजिल के कमरे में बच्चों का क्लास चलता है उस कमरे में ना तो खिड़की लगी है और ना ही दरवाजा।बच्चों के पानी पीने के लिये जो नल लगा है वो शौचालय के बगल ही लगा दिया गया है, जिससे बच्चे दूषित जल पीने को मजबूर हैं। इन सब अव्यवस्थाओं के बाद भी अधिकारी इसे सामान्य बता रहे हैं। इससे ये साबित होता है कि उन्हें बच्चों की कितनी फिक्र है।

प्रधानाध्यापक जगदम्बा मौर्य ने बताया कि विद्यालय की मान्यता 2016 से है और हमारे विद्यालय मे 600 से ज्यादा बच्चे अध्ययनरत हैं। प्रबंधक तुलाराम मौर्य ने इन बच्चों का विद्यालय एक ऐसी बिल्डिंग में शुरू किया है जो निर्माणाधीन है।ढांचा खड़े हो जाने को विभाग ने कार्य पूर्ण मान लिया हैं और ऊपरी मंजिल में बिना दरवाज़े,खिड़की के स्कूल का संचालन शुरू कर दिया है कमरे में पक्की फ़र्श ना होने के कारण बच्चे इस भवन में मिट्टी के फ़र्श पर बैठ कर शिक्षा पाने को मजबूर हैं।आए दिन भवनों में होने वाले हादसों से शिक्षा विभाग  कोई सबक नहीं ले रहा है।
खतरे में मासूम

सवाल उठता है कि जब जो भवन पूरी तरह बनकर तैयार ही नहीं हुआ हो उसमें स्कूल जैसी गतिविधियों को संचालित करने की स्वीकृति नही दी जाती है। तो विद्यालय को मान्यता कैसे प्राप्त हुआ। भवन में अभी काफी काम बाकी है,भवन की खिड़िकियां भी अधूरी पड़ी हैं,जो पूरी तरह से मानक विहीन है निर्माणाधीन भवन में बच्चे ऊपरी मंजिल में पढ़ने जाते हैं। इस तरह के भवनों में हादसों की आशंका बनी रहती है, लेकिन विभाग को इससे कोई लेना-देना नहीं है।
क्या कहते हैं जिम्मेदार

ज़िला विद्यालय निरीक्षक से जब फोन कर पूछा गया तो उन्होने बताया की बिना मानक पूरा किए मान्यता नही दिया जा सकता अगर ऐसा है तो जाँच कर कार्यवाही की जाएगी।

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Loading...
Loading...

Comments