नकल विहीन बोर्ड परीक्षा संपन्न कराने के लिए डीएम ने कमर कसी

नकल विहीन बोर्ड परीक्षा संपन्न कराने के लिए डीएम ने कमर कसी

                         संवाददाता

                        अतीक राईन

गोण्डा- 7 फरवरी से शुरू होने जा रही यूपी बोर्ड की परीक्षा कड़े प्रबन्धों, सख्ती व सुचिता के साथ सम्पन्न कराई जाएगी होगी। जिलाधिकारी कैप्टेन प्रभान्शु श्रीवास्तव ने निर्धारित कुल 136 परीक्षा केन्द्रों को 24 सेक्टरों में विभाजित कर सेक्टर मजिस्ट्रेटों की तैनाती कर दी है।

वहीं 16 परीक्षा केन्द्रों को संवेदनशील तथा 17 परीक्षा केन्द्रों को अतिसंवेदनशील परीक्षा केन्द्र के रूप में चिन्हांकित कर विशेष निगरानी की व्यवस्था की गई तथा ऐसे सभी परीक्षा केन्द्रों पर स्टेटिक मजिस्ट्रेटों की तैनाती की जाएगी।


 सोमवार को जिला पंचायत सभागार में डीएम व एसपी ने सेक्टर मजिस्ट्रेटों व केन्द्र व्यवस्थापकों के साथ बैठक कर परीक्षा को पूरी तरह नकलविकहीन व सुचिता के साथ सम्पन्न कराने की रणनीति बनाई। डीएम ने बैठक में केन्द्र व्यवस्थापकों को स्पष्ट चेतावनी दी कि परीक्षा में नकल करने अथवा कराने की चेष्टा करने वाले नकल की मंशा को दिमाग से निकाल देें। उन्होने कहा कि शासन की मंशानुरूप बोर्ड परीक्षा नकल विहीन सम्पन्न कराई जाएगी और जो भी विद्यालय व केन्द्र व्यवस्थापक नकल कराने का प्रयास करते हुए पाए गए तो निश्चित ही उनके खिलाफ नजीरी कार्यवाई होगी।

उन्होने कहा कि परीक्षा केन्द्रों पर परीक्षा केन्द्रों के स्टाफ का आईकार्ड सभी विद्यालय जारी करें तथा कम पड़ने वाले स्टाफ की ड्यूटी बीएसए द्वारा लगाई जाएगी कोई भी परीक्षा केन्द्र अपनी मन मर्जी से परीक्षा स्टाफ नहीं रखेगा। इसके अलावा विषय विशेषज्ञ की ड्यूटी सम्बन्धित विषय की परीक्षा के दिन कतई नहीं लगाई जाएगी।

डीएम ने सभी सेक्टर मजिस्ट्रेटों को सख्त निर्देश दिए हैं कि वे अपने-अपने क्षेत्र के परीक्षा केन्द्रों का चैबीस घन्टे के अन्दर निरीक्षण यह रिपोर्ट दें कि वहां पर सीसीटीवी कैमरे वाॅइस रिकार्डिंग के साथ लगे हैं अथवा नहीं, केन्द्र पर बाउन्ड्रीवाल तथा जनरेटर की व्यवस्था है अथवा नहीं। उन्होने निर्देश दिए कि किसी भी परीक्षा केन्द्र पर परीक्षा टेन्ट अथवा खुले में नहीं होगी।

उन्होने कहा कि परीक्षा के पूर्व परीक्षार्थियों की तलाशी ढंग से की जाय। पुलिस व्यवस्था के बारे में बताते हुए एसपी आरपी सिंह ने कहा कि परीक्षा के दौरान कानून व्यवस्था को चुनौती देने का प्रयास करने वालों के खिलाफ पुलिस कड़ी कार्यवाही करेगी तथा सभी परीक्षा केन्द्रों पर पर्याप्त पुलिस बल तैनात रहेगा। इसके अलावा सचल दल लगातार भ्रमणशील रहेगें।

  बैठक में अपर जिलाधिकारी रत्नाकर मिश्र, सिटी मजिस्ट्रेट सुभाषचन्द्र प्रजापति, एसडीएम सदर एसएन त्रिपाठी, एसडीएम मनकापुर जगदम्बा सिंह, एसडीएम करनैलगंज आर0के0 वर्मा, एसडीएम तरबगंज सौरभ भट्ट, डीआईओएस अनूप श्रीवास्तव, बीएसए मनीराम सिंह, माध्यमिक शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष अजीत सिंह सहित सभी सेक्टर मजिस्ट्रेट व केन्द्र व्यवस्थापक मौजूद रहे।

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Loading...
Loading...

Comments