17 दिन पहले प्रदेश कमाने गया युवक का घर पर पहुचा शव

 17 दिन पहले प्रदेश कमाने गया युवक का घर पर पहुचा शव

गोरखपुर । गुलरिहा थाना क्षेत्र का एक युवक प्रदेश कमाने गया था. तबीयत विगड़ने पर ठीकेदार ट्रैन से घर जाने के लिए अन्य आदमीयों के साथ ट्रेन में बैठा दिया . रास्ते में उसकी मृत हो गई. सूचना मिलने पर परिजन शव लेने रेलवे स्टेशन गोरखपुर पहूंचे. ठिकेदार के आदमी शव परिजन को सौंप कर फरार हो गये. परीजन घर पहूंचे और पुलिस को सूचना दिया. गुलरिहा थाना इलाके के फूलवरियां निवासी पप्पु पुत्र करीम चेन्नई में पेन्ट पालिश का ठीका पट्टी लेकर काम करता है.

पढोसी गांव जंगल डुमरी नंबर एक के भण्डारो निवासी अमरजीत निषाद पुत्र स्वामीनाथन (35) को पेन्ट पालिश का काम करने के लिए 17 दिन पहले चेन्नई बुलाया था. मंगलवार की रात आठ बजे ठीकेदार के आदीयों ने अमरजीत के घर फोन से सूचना दिया कि उसकी तबीयत बहुत खराब है गोरखपुर रेलवेस्टेशन पर आकर लेजायें. घर के लोग वहां पहूंचे तो ठीकेदार के आदमियों ने अमरजीत को आटो में लेटा कर घर के लोगो से मडिकल कालेज लेजाने की बात कहकर वहां से फरार हो गये.

तब उसके घर वालो को पता चला कि अमरजीत की मृतक हो गयी है. शव लेकर घर पहूंचे और पुलिस को सूचना दिया. शव पहूंचते ही गांव में कोहराम मच गया. बुद्धवार की सुबह दोनो पक्षों ने आप में बैठ कर सुलह समझौता कर शव का विना पोस्टमार्टम के अन्तिम संस्कार कर दिया. ग्रामीणों का कहना है कि मृतक अमरजीत निषाद शराब पीने का आदि था. और किसी गम्भीर बिमारी से ग्रसित था. मृतक के तीन लडके एक लडकी है पत्नी सुनीता का कहना हैं । कि उनका तबियत खराब था । मैं कई दिनों से ठीकेदार पप्पू से बोल रही थी की उन्हें घर भेज दीजिये ।

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments