ग्राहम रीड बने भारतीय पुरूष हॉकी टीम के नए कोच

ग्राहम रीड बने भारतीय पुरूष हॉकी टीम के नए कोच

रीड को 2020 के आखिर तक भारतीय टीम का मुख्य कोच बनाया गया है। बार्सिलोना ओलंपिक 1992 की रजत पदक विजेता आस्ट्रेलियाई टीम के सदस्य रहे 54 वर्षीय रीड पूर्व भारतीय खिलाड़ी हरेंद्र सिंह की जगह लेंगे ।

 

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व ओलंपिक पदक विजेता ग्राहम रीड को भारतीय पुरूष हॉकी टीम का कोच नियुक्त किया गया है। वो भुवनेश्वर में होने वाले एफआईएच हाकी सीरीज फाइनल से पहले टीम से जुड़ जाएंगे। रीड को 2020 के आखिर तक भारतीय टीम का मुख्य कोच बनाया गया है।

बार्सिलोना ओलंपिक 1992 की रजत पदक विजेता आस्ट्रेलियाई टीम के सदस्य रहे 54 वर्षीय रीड पूर्व भारतीय खिलाड़ी हरेंद्र सिंह की जगह लेंगे । हरेन्द्र को भुवनेश्वर में पिछले साल के आखिर में खेले गये विश्व कप में टीम के खराब प्रदर्शन के बाद हटा दिया गया था। भारतीय टीम तब से मुख्य कोच के बिना खेल रही थी।  रीड शुरू से ही इस पद के मुख्य दावेदारों में शामिल थे और हॉकी इंडिया ने सोमवार को इसकी औपचारिक घोषणा की। 

रीड 1984, 1985, 1989 और 1990 चैंपियन्स ट्राफी विजेता ऑस्ट्रेलियाई टीम के भी सदस्य थे। उन्होने 130 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले। उन्हें 2009 में आस्ट्रेलिया का सहायक कोच नियुक्त किया गया था। इसके बाद उन्हें टीम का मुख्य कोच बनाया गया। उनके रहते हुए टीम ने 2012 में लगातार पांचवीं बार चैंपियन्स ट्रॉफी का खिताब जीता।

इसके बाद भी ऑस्ट्रेलिया टीम उनकी देखरेख में निरंतर अच्छा प्रदर्शन करती रही और दुनिया की नंबर एक टीम बनी। रीड 2017 में नीदरलैंड चले गये और वह एम्सटर्डम क्लब के मुख्य कोच बने। वह 1993 और 1994 में इस क्लब के लिये खेल चुके थे। हाल में वह नीदरलैंड टीम के सहायक कोच की भूमिका निभा रहे थे। इस टीम ने 2018 विश्व कप में रजत पदक जीता था।

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments