23 माई के बाद गुजराती प्रधानमंत्री नहीं रहेंगे, शिया वक्फ बोर्ड का चेयरमैन कर ले आत्महत्या ।अकील खान

  23 माई  के बाद गुजराती प्रधानमंत्री नहीं रहेंगे, शिया वक्फ बोर्ड का चेयरमैन कर ले आत्महत्या ।अकील खान

     

 लखनऊ पिछड़ा मुस्लिम मोमिन समाज के प्रदेश उपाध्यक्ष प्रवक्ता मोहम्मद अकील खान ने  पत्रकार वार्ता में कहा कि शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी के बयान पर टिप्पणी करते हुए कहा है कि मोदी जी 23 मई के बाद हिंदुस्तान के प्रधानमंत्री नहीं रहेंगे यदि वसीम रिजवी को आत्महत्या करना है

तो श्री राम की नगरी अयोध्या जी जैसे पाक और पवित्र सर जमीन पर अपवित्र इंसान कोई दूसरा स्थान चुन ले क्योंकि अयोध्या श्री राम की नगरी है वसीम रिजवी जैसे लोगों का अयोध्या में सरजू नदी के पुल से कूद जाएं तब उनकी जान निकल सकती है वरना इतने गंदे जेहन के इंसान का जान इतनी आसानी से नहीं निकलेगा

प्रदेश प्रवक्ता मोहम्मद अकील खान ने कहा कि  वसीम रिजवी ने हमेशा नफरत का जहर घोलने का काम अपने पर्सनल लाभ के लिए हमेशा लोगों  का अमन चैन सुकून  आपसी भाईचारा  लखनऊ की गंगा जमुनी तहजीब  को  हमेशा झज कोड़ता आ रहा है

वसीम रिजवी में अगर जरा सी भी गैरत होती तो आत्महत्या कर लेता प्रदेश उपाध्यक्ष प्रवक्ता मोहम्मद अकील खान ने कहा की वसीम रिजवी जैसे चाटुकार ओं की  दुकाने  शिया समाज और सुन्नी समाज के लोगों ने  बंद करने की सोच ली है  मुसलमानों के प्रति जो नफरत वसीम रिजवी जैसे लोग पैदा कर रहे हैं इससे सबसे ज्यादा नुकसान मोदी जी का होगा शिया वक्फ  बोर्ड का चेयरमैन वसीम रिजवी अपनी कुर्सी बचाने के चक्कर में आए दिन मोदी जी और योगी  के चाटुकारिता के लिए उत्तर प्रदेश के अंदर मशहूर होने का काम कर रहा है

लेकिन इसको  शिया वक्फ बोर्ड  की कुर्सी से हटाया जाता तो शायद कुछ लोगों के दिलों दिमाग में  मोदी जी के और योगी जी के लिए हमदर्दी हो सकती थी लेकिन जिस तरह से बद जुबान वसीम रिजवी मुसलमानों के प्रति नफरत पैदा करके अपनी शिया वक्फ बोर्ड की कुर्सी बचाने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार के मुख्यमंत्री जनाब योगी आदित्यनाथ साहबऔर हिंदुस्तान के प्रधानमंत्री जनाब नरेंद्र मोदी साहब का बहुत बड़ा नुकसान कर रहा है

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments