कुश्ती के महासमर में जय-पराजय का गवाह बनेंगे हनुमानजी

उत्तरप्रदेश

विश्व विख्यात अयोध्या नगरी से सटी पड़ोस की जनपद गोंडा की नंदिनी एक बार फिर देशभर के खेल फौलादियों के लिए गवाही बनेगी।

नंदिनी नगर कुश्ती के छठवें मेजबानी के लिए तैयार है। यहां सात केंद्र शासित प्रदेशों समेत 36 प्रांतों के खेल फौलादियों की आमद हो चुकी है।

रेलवे व सेना के भी कुश्ती खिलाड़ी भी दांव दिखाने को अपनी उपस्थिति दर्ज करा चुके हैं। शुक्रवार से शुरू हो रहे तीन दिवसीय 63वीं पुरुष फ्री स्टाइल, ग्रीको रोमन व 21वीं महिला सीनियर नेशनल कुश्ती चैंपियनशिप का उद्घाटन सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ करेंगे। 


सात साल पहले यहां नंदिनी के आंगन में सांसद बृजभूषण शरण सिंह ने‌ कुश्ती प्रशिक्षण केंद्र की नींव रखी थी। धीरे-धीरे वह इतनी मजबूत हुई कि वही लगातार छठवीं बार चैंपियनशिप आयोजित हो रही है।

देश के विभिन्न प्रांतों से 30-30 पहलवानों का यहां दांव-पेंच देखने स्वयं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ समेत तमाम मंत्री व विधायक आ रहे हैं। वहीं फौलादियों के जय-पराजय का गवाह स्वयं मर्यादा पुरुषोत्तम राम के भक्त भगवान हनुमानजी बनेंगे।

जी हां, जिस मैट के अखाड़े पर कुश्ती लड़ी जाएगी। वहां हनुमानजी का छह-छह फिट का दो बड़ा चित्र रखा गया है।

इसके पीछे एक मंशा और भी है कि हनुमानजी के चित्र को देखकर खिलाड़ियों में उत्साह बढ़ेगा और खिलाड़ियों को पटकनी के लिए बल मिलेगा। 


इससे पहले गुरुवार को‌‌ पूरा प्रशासनिक अमला तैयारियों में जुटा रहा।‌ एसपी लल्लन सिंह स्वयं भी सुरक्षा के सभी मानकों को बार-बार परख रहे थे। एक ही साइज के तीन बड़े-बड़े मैट के अखाड़े बनाये गये हैं।

उसके उत्तर की तरफ एक और बड़ा मंच स्थापित है।‌ जिस पर बतौर मुख्य अतिथि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और अन्य विशिष्ट अतिथि मौजूद रहेंगे।

इसके साथ ही खेल मंच के‌ पश्चिम दर्शकों के बैठने की व्यवस्था की गई है।‌ जिसे छह हिस्सों में बांटा गया है।‌ प्रत्येक हिस्से में 550 लोग बैठेंगे। 


 कब क्या आयोजन


30 नवंबर को ग्रीको रोमन कुश्ती होगी।‌ जिसका उद्घाटन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ करेंगे। अगले दिन पहली दिसंबर को महिला कुश्ती का आयोजन है।

इस दिन महिला खिलाड़ी पटकनी के दांव-पेंच दिखाएंगी। बाद में दो दिसंबर को फ्री स्टाइल कुश्ती देखना काफी दिलचस्प होगा। 


तैयारियों के बीच कमियों को इंगित करते रहे सांसद


राष्ट्रीय कुश्ती प्रतियोगिता के दिन पहले गुरुवार को जब पूरा जिला प्रशासन यहां नंदिनी में तैयारियों में जुटा रहा।

तब सुबह से ही सांसद बृजभूषण शरण सिंह भी मौजूद रहे। वह अफसरों के साथ तैयारियों का जायजा लेते रहे। साथ ही कमियों को इंगित भी करते रहे।

जिसे उसी दरमियान सुधारा भी जाता रहा। श्री सिंह के अलावा नंदिनी प्रशासन भी हरेक बिन्दुओं पर‌ बारीकी पकड़ता रहा। कहीं कोई कमी न रह जाय। ऐसी सबकी मंशा दिखी। 


अंतरराष्ट्रीय मानक पर बने स्वीमिंग पूल का सीएम करेंगे उद्घाटन


कुश्ती प्रतियोगिता के लिए लगातार छठवीं बार गवाह बन रही नंदिनी अब एक और खासियत के लिए जानी जाएगी।‌

दरअसल यहां नंदिनी के आंगन में नवनिर्मित स्वीमिंग पूल को अंतर्राष्ट्रीय मानक को ध्यान में रखकर बनाया गया है। जो कि तैराकी सीखने के‌ लिए कुछ खास होगा।

यही वजह है कि इसका सीएम‌ योगी आदित्यनाथ के हाथों उद्घाटन होगा। स्वीमिंग पूल निर्माण में सीनियर व जूनियर दोनों वर्ग के बच्चों का ख्याल रखा गया है। यहां एक बड़ा सा स्वीमिंग पूल बना है।

जो सीनियर वर्ग के लिए है। बाकी एक थोड़ा छोटा पूल बनाया गया है। जिसमें जूनियर वर्ग के बच्चे तैराकी सीखेंगे।


 सड़कों से आंगन तक सिर्फ होर्डिंगों की होड़


30 नवंबर से शुरू हो रहे कुश्ती चैंपियनशिप का उत्साह हर किसी में दिख रहा है। सड़कों पर रौनक साफ झलक ही रही है। व्यापारी वर्ग भी काफी खुश नजर आ रहा है।

उधर विभिन्न टीमों के खिलाड़ियों की आमद से माहौल भी उत्सुक हो गया है। सड़कों पर समर्थक दिनभर होर्डिंग-बैनर लगाते रहे। ज्यादातर होर्डिंगें राजनेताओं से जुड़े रहे लेकिन खिलाड़ियों की भी तस्वीरें चैंपियनशिप की शोभा बढ़ा रही हैं।

सीएम योगी की तस्वीर के साथ वाली होर्डिंग-बैनरों की‌हर तरफ होड़ सी दिखाई दे रही है। बालेन्द्र 

Loading...
Loading...

Comments