अजब गजब है टड़ियावां पुलिस का कारनामा 

अजब गजब है टड़ियावां पुलिस का कारनामा 
  • अजब गजब है टड़ियावां पुलिस का कारनामा 
  • धन उगाही का वीडियो बनाने पर पत्रकार के साथ अभद्रता
  • हाथापाई के साथ छीना मोबाइल मण्डल अध्यक्ष के साथ हुई नोक झोंक
  • इंस्पेक्टर के दखल पर किया मोबाइल वापस
  • मामला बढ़ता देख मौके से हुए रफूचक्कर

टड़ियावां/हरदोई

मंगलवार की दोपहर इटौली तिराहा पर नो इन्ट्री के चलते डी सी एम चालक से धन उगाही करते हुए सम्बन्धित पुलिस वालों का वीडियो बनाने में एक पत्रकार को मंहगा पड़ा।वीडियो बनाते देख पुलिस कर्मी का गुस्सा सातवें आसमान पर पहुँच गया।वहीं बीच मे पड़े भाजपा मण्डल अध्यक्ष के साथ भी तीखी झड़प हुई।

हुए घटना क्रम में मंगलवार की दोपहर इटौली तिराहा पर नो इन्ट्री के चलते एक डी सी एम चालक से सुविधा शुल्क के रूप में वहाँ मौजूद डायल 100 के सिपाहियों द्वारा धन उगाही का वीडियो बनाना दैनिक समाचार पत्र स्वतन्त्र चेतना के टड़ियावां संवाददाता आशुतोष मिश्रा को भारी पड़ गया।आक्रोशित सिपाही ने आग बबूला होते हुए रिपोर्टर के पास से मोबाइल छीन लिया।वहीं अभद्र शब्दों के साथ हाथापाई पर उतारू हो गए।उसी समय वहाँ पहुँचे भाजपा मण्डल अध्यक्ष कृष्णमोहन शुक्ला के हस्तक्षेप पर  दोनों सिपाही ये कहते हुए अभद्रता पर आमादा हो गए।कि होंगे आप मण्डल अध्यक्ष मेरी नौकरी ले लोगे।

काफी देर हुए वाद विवाद के बाद मण्डल अध्यक्ष द्वारा मामले की शिकायत फोन द्वारा इंस्पेक्टर सुभाष चन्द्र सरोज को दी गई।जिसको संज्ञान में लेते हुए इंस्पेक्टर के निर्देश पर सम्बन्धित सिपाहियों ने रिपोर्टर का मोबाइल वापस कर मौके से खिसक लिए।

वहीं उक्त घटना से आहत मण्डल अध्यक्ष एवं सम्बन्धित रिपोर्टर ने घटना की शिकायत उच्चाधिकारियों से करने की बात कही।वैसे तो नो इन्ट्री के चलते वहाँ मौजूद पुलिस कर्मियों द्वारा अवैध धन उगाही का खेल लम्बे समय से निरन्तर जारी है।

नो इन्ट्री के बहाने सुविधा शुल्क के रूप में मार्ग से गुजरने वाले वाहन पिकेट पर कार्यरत पुलिस कर्मियों की कमाई का जरिया बना हुआ है।जिसमें दखल देना अंततः सम्बन्धित कर्मियों द्वारा सम्बन्धित रिपोर्टर व मण्डल अध्यक्ष से वाद विवाद,अभद्रता व हाथापाई तक नौबत आ गई।

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments