आदमपुर मिनी सचिवालय खंडहर मे तब्दील 

आदमपुर मिनी सचिवालय खंडहर मे तब्दील 
  •  बिडियो ,प्रधान, सेक्रेटरी, बने मूक दर्शक 
  • मिनी सचिवालय पर ग्रामीणों का कब्जा 


हरदोई/कोथावाँ ।

विकास खण्ड के ग्राम पंचायत आदमपुर गाँव में बना मिनी सचिवालय खंडहर में तब्दील हो रहा है। सरकार द्वारा ग्राम पंचायतों में विकास की रूपरेखा तय करने के लिए बीते वर्षों में बनवाए गए ग्राम सचिवालय के निर्माण पर लाखों रुपए का बजट खर्च कर दिया गया।

लेकिन इन ग्राम सचिवालय पर एक भी बैठक नहीं हो सकी ।और यह खंडहर में तब्दील हो गए। यही नहीं, कहीं कहीं इन सचिवालयो के भवनो पर गांव के लोगों का कब्जा करके अपने निजी उपयोग का साधन ही बना लिया है। विकासखंड कोथावाँ के आदमपुर  गांव में बने ग्राम सचिवालय पूरी तरह खंडहर में तब्दील हो गया है।


इसके दरवाजे तथा खिड़की ग्रामीणों ने उखाड़ कर अपने घरों में रख लिए हैं यही नहीं, इस बाउंड्रीवाल तक ग्रामीण उखाड़ ले गए हैं।अब भवन को उखाड़ने का क्रम जारी है।



अगर जिम्मेदारों ने इस तरफ समय रहते ध्यान नहीं दिया कुछ समय में इस भवन का अस्तित्व ही मिट जाएगा। हालांकि सरकार की मंशा थी कि सभी ग्राम पंचायतों के मिनी सचिवालयो में अपनी ग्राम पंचायतों का एक अपना कार्यालय हो, जहां ग्राम विकास अधिकारी व ग्राम प्रधान ग्राम पंचायतों की बैठक कर सके ।तथा गांव के विकास की रूपरेखा तय की जा सके ,लेकिन सरकार की इस मंशा पर पूरी तरह पानी फिर गया है।

लोगों ने ग्राम पंचायतों में बनाए गए ग्राम सचिवालयो पर कब्जा कर लिया तथा उनको अपने निजी उपयोग का साधन बना लिया यही नहीं लाखों रुपए की लागत से बनाए गए इन सचिवालयो का अस्तित्व ही मिटा डाला ग्राम पंचायत आदमपुर  में बने मिनी सचिवालय तो एक बानगी भर है कोथावाँ  क्षेत्र में बनाए गए ग्राम सचिवालयो की हालत इससे भी बदतर है।



रिपोर्ट: रोहित वर्मा "नीरज "
स्वतंत्र प्रभात मीडिया हरदोई 

 

 

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments