सपा- बसपा गठबंधन प्रत्याशी ने नामांकन में दी गयी गलत जानकारी शिकायत करता ने की चुनाव आयोग से नामांकन ख़ारिज करने की मांग

सपा- बसपा गठबंधन प्रत्याशी ने नामांकन में दी गयी गलत जानकारी शिकायत करता ने की चुनाव आयोग से नामांकन ख़ारिज करने की मांग

हरदोई में सुबह से ही उनके समर्थक पहुंचने लगे और पूर्वाह्न नामांकन जुलूस कलेक्ट्रेट के लिए रवाना हुआ। शहर के विभिन्न क्षेत्रों से गुजरते हुए प्रत्याशी और समर्थक हरदोई कलेक्ट्रेट पहुंचे,सुरक्षा में लगे कर्मियों ने प्रत्याशी के साथ केवल कुछ ही लोगों को अंदर जाने दिया।ऊषा वर्मा ने  अपना नामाकंन पत्र जिला निर्वाचन अधिकारी पुलकित खरे के समक्ष प्रस्तुत किया, नामांकन दाखिल करने के बाद वह बाहर आईं। कार्यकर्ताओं ने नारेबाजी के साथ उनका स्वागत किया,तथा नामांकन प्रपत्र में गलत जानकारी दी।ऊषा वर्मा द्वारा दाखिल नामांकन के फॉर्म में कुछ जानकारियाँ गलत दी है,उन्हें टिक मार्क करके गलत जानकारी प्रदान की। 

शिक़ायत कर्ता के शिकायत पत्र के अनुसार:- 

गठबंधन की प्रत्यासी उषा वर्मा पर शिकायतकर्ता राजकुमार राठौर ने तथ्यों को अपने शपथपत्र में छिपाने का आरोप लगाते हुए अपनी शिकायत को रिटर्निंग ऑफिसर के पास दर्ज कराते हुए उषा वर्मा के नामांकन को निरस्त करने की लिखित रूप से मांग की है। 

प्रकरण पर लगाए गए आरोप:-

(1)उषा वर्मा का संडीला में प्रफुल्ल फिलिंग स्टेसन रास्ता गाटा संख्या 597 व गाटा संख्या 601 जो बंजर सरकारी संपत्ति का अनाधिकृत कब्जा करके बनाया गया है।

(2)इस संबंधित प्रकरण में उषा वर्मा के विरुद्ध दिनांक 08/06/2011 को आदेश पारित करके गाटा संख्या 597 व 601 से बेदखली व 22845 रुपये की बसूली हेतु ज0वि0आकर पत्र 49ग जारी किया गया परंतु न ही जुर्माना जमा किया गया न ही बेदखली की कार्यवाही की गई। उषा वर्मा पर 22845 की देनदारी है जिसे उन्होंने रिटर्निंग ऑफीसर के समक्ष प्रस्तुत किए गए  शपथपत्र में छिपाया है जो निर्वाचन संबंधी नियमावली का स्पष्ठ उल्लंघन है एवं बिधि बिरूद्ध भी है ऐसी स्तिथि में उषा वर्मा का नामांकन निरस्त किया जा सकता है, इसी तरह इनकम टैक्स की डिटेल भी नहीं भरी गई है।

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments