गौशालाओं पर करोड़ों खर्च,मवेशी फिर भी सड़कों पर  

गौशालाओं पर करोड़ों खर्च,मवेशी फिर भी सड़कों पर  

 हरदोई/शाहाबाद ।

गौशालाओं की तमाम देखरेख और सुव्यवस्थाओं के नाम पर  सरकार करोड़ों खर्च कर रही है।उसके बाबजूद हजारों गौवंश सड़कों पर यातायात में बाधा उत्पन्न कर रहे हैं।सड़कों पर आवारा घूम रहे गौवंशों के कारण दुर्घटनाओं में वृद्धि हो रही है।

जिम्मेदारों की अनदेखी की शिकार इन गौशालाओं में मवेशियों के खाने पीने का भी प्रबन्ध न होने के कारण सभी गौवंश वहां से निकल कर इधर उधर भटकते हुए किसानों की फसलों को बर्बाद कर रहे हैं या सड़कों पर डेरा जमाए हुये हैं। क्षेत्र की गौशालाओं का समय समय पर भले ही निरीक्षण किया जाता रहा हो लेकिन व्यवस्था में कोई परिवर्तन नही हो रहा है।

गौशालाओं में अव्यवस्थाओं का बोलबाला है।क्षेत्र की तमाम  गौशालाएँ अव्यवस्थाओं से जूझ रही हैं।विदित हो कि शासन की ओर से गौशालाओं की व्यवस्था को लेकर सख्त निर्देश जारी किये गए थे।गौशालाओ में गौवंशों की मौतों पर जिम्मेदार कुछ भी बोलने से कतराते हैं।

सफीपुर,खनिगवां खुर्द,नरहाई,मझिला सहित रामपुर कोंडा की गौशालाओं में मवेशी भूसे के अभाव में भूख के कारण से मर चुके हैं। स्थानीय  प्रशासन इस ओर कोई ध्यान नही दे रहा है।यहां तक कि गौशालाओं से गौवंशों को रात में बाहर भगा दिया जाता है।यही गौवंश सड़कों पर डेरा जमाए रहते हैं।

जो सड़कों पर दुर्घटनाओं को दावत देते रहते हैं।क्षेत्र के उधरनपुर और हर्रई न्याय पंचायत के प्रत्येक गांव में आवारा जानवरों का बोलबाला है।जो इकठ्ठा होकर रोजाना सड़कों पर बसेरा बनाये रहते हैं।

 

Comments