बिलग्राम की शाम रही कवियों के नाम रसलीन के शहर बिलग्राम में कवियों ने बांधा समां।

बिलग्राम की शाम रही कवियों के नाम रसलीन के शहर बिलग्राम में कवियों ने बांधा समां।
  • महोत्सव में कवियों को काव्य गौरव सम्मान से नवाजा  गया

बिलग्राम ।

कस्बे में श्रीरामलीला एवं प्रदर्शनी समिति के तत्वावधान में कवि सम्मेलन में आये कवियों ने अपनी रचनाओं से समां बांधा ।कार्यक्रम का शुभारंभ एसडीएम रामविलास यादव व कोतवाल अमरजीत सिंह ने मां शारदा के चित्र पर माल्यार्पण व दीप प्रज्ज्वलन कर किया।

महोत्सव में कवि सम्मेलन की शुरुआत मिश्रिख से आये जगजीवन मिश्र की वाणी वन्दना से हुई।हरदोई के युवा कवि आकाश सिंह ने "अपने बनकर सभी से मिलो तो सही, फूल बनकर चमन मे खिलो तो सही, नफरतों का अंधेरा तो मिट जायेगा, "कविता पढ़ वाहवाही लूटी।

बाराबंकी से आये कवि शिव किशोर तिवारी खंजन ने "है जिनका कार्य उत्तम और उत्तम है घराना भी,वहिं दशरथ का बेटा बनकर पैदा राम होता है"कविता पढ़ तालियां बटोरी,शाहजहांपुर से आये गीतकार डॉ0इंदु अजनबी का"पंख लग जाएं तेरी आशा को,यह दुआ बार बार करता हूँ,"गीत काफी सराहा गया।लखनऊ से आई कवयित्री व्याख्या मिश्रा की नारी जागरण की कविता"धारा के साथ साथ मे, बहना गुनाह है,हो 

अत्त्याचार तो वहाँ, रहना गुनाह है।करनी तुम्हे सुरक्षा होगी स्वयं बेटियो,नारी का ज्यादा जुर्म भी सहना गुनाह है।"पर पूरा पंडाल तालियों से गूंज उठा।रामनगर से आये हास्य कवि प्रमोद पंकज ने अपनी पैरोडी"गाड़ी वाले साइड लगा लगा, चलो साहब बुलाते हैं आ, तू कागज सब दिखा दिखा।" सुनाकर श्रोताओ को जमकर हंसाया।

हरदोई के गीतकार पवन कश्यप ने"आंख का मेरे निर्मल वो जल ले गयी।मेरे आंगन से वो तुलसी के दल ले गयी।।"गीत पढ़ समां बांधा। हास्य कवि अजीतशुक्ल ने कानून व्यवस्था पर तंज कसते हुए  "वादों से वो जनता को छलते रहे।बेटी मर गयी वो नम्बर बदलते रहे।"कविता को श्रोताओ ने खूब सराहा।

गीतकार जगजीवन मिश्र का गीत"चाहने वाले हमको भी कम तो नहीं हम तुम्हे चाहते है बड़ी बात है।" सुन श्रोता मंत्रमुग्ध हो गए।रायबरेली से आये संचालक नीरज पांडेय ने" हम फर्ज भूलने की नही करते भूल हैं।अपनी भी जिंदगी के यारों कुछ उसूल हैं।काँटों के साथ रहके कैसे चुभना सीख लें,हम मुस्कराने व महकने वाले फूल हैं।

कविता पढ़ तालियां बटोरी।कार्यक्रम की अध्यक्षता रामस्वरूप वर्मा  ने की।अतिथियों का स्वागत समिति के संयोजक धर्मेंद्र यादव प्रबन्धक सिंह,महामंत्री रामसेवक यादव, व आभार प्रबन्धक नीरज सिंह ने किया। कार्यक्रम में चंद्र किशोर कपूर राहुल कपूर प्रेम प्रकाश श्रीवास्तव,

डॉ वीरेंद्र सिंह ,अमित विश्वास, शिवम यादव, शिवम कटियार, बबलू गुप्ता, डॉ कपिल देव त्रिपाठी ,लालाराम राजपूत ,बी पी सिंह ,शिवराज सिंह ,रमेश यादव ,पवन दुबे, अजय रात त्रिवेदी  ,आदि लोग रहे

Comments