हरियाणा उत्तर की सभी 42 शाखाओं के महिला और पुरूष पदाधिकारियों ने हिस्सा लिया।

घरौंडा (तिलक राज बंसल) भारत विकास परिषद् का हरियाणा उतर का प्रांत स्तरीय महिला सम्मेलन में महिलाओं की मौजूदा स्थिति को लेकर मंथन किया गया। बसताड़ा के निजी कॉलेज में आयोजित इस प्रांत स्तरीय सम्मेलन में भाविप हरियाणा उत्तर की सभी 42 शाखाओं के महिला और पुरूष पदाधिकारियों ने हिस्सा लिया।

साथ ही भाविप द्वारा महिलाओं को लेकर किए जा रहे भाविप के प्रयासों का लेखा जोखा प्रस्तुत किया गया। कार्यक्रम में प्रसिद्ध समाजसेविका विजय लक्ष्मी पालीवाल ने मुख्यरूप से शिरकत की और कहा कि प्राचीन काल से महिला सशक्त रही है, युद्ध के दौरान राजा दशरथ को उनकी भार्या कैकेयी ही निकालकर लाई थी। महिलाएं पुरूषों के मुकाबले किसी भी क्षेत्र में कम नही है। उन्होंने कहा कि महिलाएं पहले खुद सशक्त बने और उसके बाद दूसरों को सशक्त बनने के लिए प्रेरित करें। 

रविवार को भाविप की ओर से आयोजित इस कार्यक्रम की शुरूआत मुख्यअतिथि समाजसेविका विजय लक्ष्मी पालीवाल, बीके रेनू बहन, विशिष्ठ अतिथि निर्मला देवी, प्रांतीय अध्यक्ष परमजीत पहावा, राष्ट्रीय एवं बाल विकास के पूर्व चेयरमैन अविनाश शर्मा, समाजसेविका कमलेश जैन व अन्य पदाधिकारियों ने भारत माता की प्रतिमा के समक्ष दीप प्रज्जवलित करके किया। इसके साथ ही बाल कलाकारों ने नाटकों व नृत्यों के माध्यम से महिला सशक्तिकरण का संदेश दिया। मुख्यअतिथि विजय लक्ष्मी पालीवाल ने कहा कि महिलाएं हर क्षेत्र में पुरूषों से आगे है। ऐसा कोई भी क्षेत्र नही है, जहां महिलाओं ने अपना लोहा ना मनवाया हो। लेकिन कुछ महिलाएं अभी तक रूढि़वादी और अज्ञानता की जंजीरों में जकड़ी हुई है, जिनको वहां से बाहर निकालना जरूरी है। इसके लिए इस प्रकार की संस्थाओं में काम करने वाली जागरूक महिलाओं को आगे आना चाहिए। वहीं भाविप के प्रांतीय अध्यक्ष ने भाविप शाखा घरौंडा द्वारा किए जाने वाले कार्यो की सराहना की और कहा कि भाविप घरौंडा कर्मठता के साथ समाजसेवा के कार्यो में अग्रणी रहती है। 

इस अवसर पर प्रांतीय महासचिव अमरनाथ शर्मा, सचिव अरुण अग्रवाल, महिला प्रमुख संगीता जग्गा, राधेश्याम भारतीय, अजय सिंगला, विक्रांत राणा व अन्य मौजूद रहे। 

फोटो केप्शन-भाविप प्रांतीय सम्मेलन में मंचासीन अतिथिगण व अतिथियों को सम्मानित करते भाविप पदाधिकारी तथा सभागार में उपस्थित पदाधिकारी 

Loading...
Loading...

Comments