एक महिला की खाते से फर्जीवाड़ा कर निकाले गए रुपये को एसपी ने कराया वापस

 एक महिला की खाते से फर्जीवाड़ा कर निकाले गए रुपये को एसपी ने कराया वापस

प्रमोद रौनियार 
 

कुशीनगर,:-  पुलिस अधीक्षक कुशीनगर राजीव नारायण मिश्र को फरियादी सती देवी पत्नी उमेश सा0- अहिरौली बाजार द्वारा प्रार्थना पत्र देकर अवगत कराया कि प्रार्थिनी के पंजाब नेशनल बैंक के बचत खाते से किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा रूपया 133000(एक लाख तैंतीस हजार)निकाल लिया गया है। एसपी ने उक्त घटना पर तत्काल कार्यवाही करने हेतु साइबर सेल को आदेशित किया गया था। इसी क्रम मे साईबर सेल द्वारा त्वरित कार्यवाही करते हुए जांच में पाया गया कि प्रार्थिनी सती देवी के खाते से आधार जनित फिंगर प्रिंट के माध्यम से रूपये 5000-10000 करके लगभग 21 बार में कुल 133000 रूपया निकाल कर आनलाईन कैश बैलेट (मेक माई ट्रिप) में कैश को इकट्ठा कर लिया गया था। साइबर सेल द्वारा उक्त आनलाईन कैश बैलेट को फ्रीज कराते हुए बैलेट में मौजूद रूपया 133000 फरियादी सती देवी के पंजाब नेशनल बैंक के बचत खाते में वापस करा दिया गया। इस कार्य को आरक्षी अनिल कुमार यादव साइबर सेल द्वारा सम्पादित किया गया है। 

 

आनलाईन फ्राड से बचाव का तरीका

 

 पुलिस अधीक्षक कुशीनगर के द्वारा बताया गया कि इस तरह के साइबर फ्राड से बचने के लिए अपनें आधार कार्ड का उपयोग व फिंगर प्रिंट का उपयोग जैसे-( सिम आदि लेते समय/ जनसेवा केन्द्र से पैसा निकालते समय) बहुत ही सावधानी पूर्वक करना चाहिए। जैसे फिंगर प्रिंट देते समय आवश्यक रूप से स्वयं जांच पड़ताल कर लेना चाहिए कि जिस मशीन पर हम अपना फिंगर प्रिंट दे रहे हैं।उस पर पतले रबर जैसे वस्तु या पाउडर का लेपन तो नहीं किया गया है। यदि इस तरह किसी भी प्रकार का शक हो तो ऐसी जगह पर अपना फिंगर प्रिंट कदापि न दें। तत्काल अपनें नजदीकी पुलिस स्टेशन में इस सूचना की जानकारी दें।

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments