कौलापुर में सैकडों लोगों ने पिये दमा व सांस की दवा ।

कौलापुर में सैकडों लोगों ने पिये दमा व सांस की दवा ।

कौलापुर में सैकडों लोगों ने पिये दमा व सांस की दवा ।

संतोष तिवारी (रिपोर्टर )

भदोही।

उत्तर प्रदेश के भदोही जनपद मे कोतवाली गोपीगंज के अंतर्गत ग्रामसभा कौलापुर के चकपरौना में स्थित बाबा पांडवा नाथ शिव का मन्दिर है ।

जहाँ पर बाबा पांडवा नाथ शिव मंदिर है उनके प्रांगण में 150 वर्षो से एक ऐसी जडी बूटियाँ पिलायी जाती है की जिससे कुछ जटिल रोग चन्द्र मिनट मे ही ठिक हो जाता है । यह दवा वर्ष में केवल एक बार कार्तिक पूर्णिमा के दिन ही पिलाया जाता है ।

जिसमे देश के कोनो-कोनो से लोग वहा आते है दवा पीने और वहा के लोगो का यह मानना है की यहा से लोग पुरी तरह से ठिक होके जाते है। वहा पर उपस्थित "वैध " प्रकाश तिवारी का कहना है की जो दवा पिलायी जाती है वह एक प्रकार की जडी बुटी है ।

जिससे सास व दमा रोगियों की भारी भीड़ लगती है। क्योंकि इस दिन रोगियों को निशुल्क दवा पिलाई जाती है। मान्यता है कि इस मंदिर का निर्माण पांडव के हाथों से किया गया ।जिसके कारण इनका नाम बाबा पांडवानाथ रखा गया।

पिछले 150 वर्षों से अधिक समय से यहां पर सास और दमा की दवा निशुल्क पिलाई जाती है ।लोगों का मानना है कि जो दवा को पी लेता है उसका सास दमा,का रोग बिल्कुल समाप्त हो जाता है ।यहां पर आसपास के जिले व अन्य प्रदेश के लोग भी दवा पीने के लिए आते हैं।
मंगलवार को भी कार्तिक पूर्णिमा के मौके पर भोर से ही काफी संख्या में दमा व सांस के रोगियो ने दवा पी।

इस मौके पर रोगियों में झारखण्ड,मध्यप्रदेश,विहार राजस्थान, महाराष्ट्र, के काफी भारी संख्या मे रोगी देखे गये। दवा पिलाने वालों में गांव के युवाओं का काफी सहयोग हमेशा से देखा गया।

Comments