जादू की कला से समाज को करेंगे जागरुक : एम.आर. रुस्तम

जादू की कला से समाज को करेंगे जागरुक : एम.आर. रुस्तम


जाने माने जादूगर ने प्रेसवार्ता में कही बात

 

बाराबंकी।

देश के जाने माने जादूगर एम.आर. रुस्तम के जादू का जलवा अब बाराबंकी वासियों को भी देखने को मिलेगा। आज शाम उसका शुभारम्भ हुआ जादू के बारे में टीम के मैनेजर बंटी निनानिया ने बताया कि बाराबंकी शहर में जादू से नोट बिखरेंगे नोटो की बारिश होगी

जो आज तक किसी भी जादूगर ने अपनी कला में नही दिखाया है। जादूगर एम.आर.रुस्तम ने बताया कि प्राचीन 64 कलाओं में जादू की कला सर्वोपरि कला है। जो आज लुप्त होती जा रही है।

बाराबंकी में जादूई सामान के पिटारे के साथ में अपने 25 कलाकारों को लेकर जादूगर का जादू अब जनपद बाराबंकी में देखने को मिलेगा। उन्होने यह भी कहा कि जादू के माध्यम से अंध विश्वास, नशाखोरी, भू्रण कन्या हत्या, स्वच्छ भारत व दहेज प्रथा जैसी कुरीतियों को भी दूर करने का संदेश जादू के माध्यम से दिया जायेगा। उन्होने यह भी बताया कि जिस चीज को आंखे तो देखती हैं पर दिमाग समझ न पाये उसे ही जादू कहते हैं। जादू में कोई भूत प्रेत व दैवीय शक्ति नही होती है। यह स्वच्छ मनोरंजन कला है।

प्रसिद्ध जादूगर ने यह भी कहा कि केन्द्र व प्रदेश सरकार इस कला को नजर अंदाज कर रही है। प्रेसवार्ता के दौरान जादूगर के अलावा अंगारा, ए.आर. शर्मा व एमडी मैनेजर बंटी निनानिया सहित समस्त कलाकार साथी मौजूद थे। 
 

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Loading...
Loading...

Comments