चिराग की जीत के बाद जश्न में डुबा शहर,नतीजों पर टिकी रही सभी की निगाहें

  चिराग की जीत के बाद जश्न में डुबा शहर,नतीजों पर टिकी रही सभी की निगाहें

2 लाख 41 हज़ार 49 मतों से चिराग ने दर्ज की बड़ी जीत

 

  • जीत के बाद पूर्व केंद्रीय मंत्री रामबिलास पासवान पहुँचे 

जमुई:-गुरुवार को शहर के हर चौक चौराहों पर सिर्फ एनडीए के ध्वज लहराते हुए लोग फिर से एक बार यह कहते नजर आए की मोदी है तो सब कुछ मुमकिन है।जैसे ही लोगो के सामने यह साफ हुआ कि बीजेपी ने पूरे देश मे अपना डंका पीट दिया और रिकॉर्ड तोड़ बहुमत लाया है वैसे ही लोगो ने अबीर गुलाल,एनडीए ध्वज लेकर सड़क पर उतर कर अपनी खुशी जाहिर करना शुरू कर दिया। शिव बाजार के खुदरा विक्रेता संघ की और से झाझा लोजपा की एवं बीजेपी की ओर से एक विशाल विजय जुलूस पुरे झाझा नगर भ्रमण करते हुए पुनः तालाब रोड मे समाप्त किया गया।

विजय जुलूस में शामिल दया शंकर प्रसाद, ईन्ददेव प्रसाद, सुभाष कुमार,साजिद खान सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ताओ ने विजय जुलूस का आरम्भ पीएम नरेंद्र मोदी के स्टाइल में भारत माता की जयकारे के साथ शुरू किया।इनलोगो ने बताया कि यह जीत ऐतिहासिक जीत है।एनडीए उम्मीदवार चिराग पासवान ने अपने 5 साल के कार्यकाल में केंद्र के मिले सहयोग से इस क्षेत्र में रुके विकास कार्यो को आगे बढ़ाया है जिसका परिणाम यह हुआ कि आज यहां के जनता ने फिर से चिराग पासवान के विश्वास को टूटने नही दिया और भारी मतों से जीत दर्ज करवाकर देश के पीएम नरेंद्र मोदी के हाथों को मजबूत किया।

चुनावी नतीजों पर टिकी थी पूरे जमुई वासियों की निगाहें

जमुई लोकसभा क्षेत्र का चुनाव परिणाम जानने के लिए गुरुवार सुबह से ही लोगों की निगाहें टीवी, मोबाइल व सोशल मीडिया पर टिकी थी।मोबाइल से भी लोग एक दूसरे से चुनाव परिणाम का हाल जानने के लिए आतुर दिखे। जमुई लोस चुनाव परिणाम जानने के लिए प्रत्याशी व कार्यकर्ता तो डटे ही थे, उनसे कम उत्सुकता आम जनता को भी नहीं थी। हालाँकि, चुनाव परिणाम का आंकलन तो मतदान के समय से शुरू हो गया था लेकिन चुनाव परिणाम की जानकारी के लिए जमुई की जनता गुरुवार को अधिक आतुर दिखे। सुबह से ही लोग टीवी के पास चिपक नजर आए। वहीं जब परिणाम आने लगा तो लोगों ने टीवी पर निगाहें गड़ा दी। शुरुआती रुझान के बाद नतीजे इतने तेज थे कि आम जनता ने दांतों तले अंगुली दबा ली।

कहीं दिखी जीत की चमक तो किसी के चेहरे पर छाई उदासी

लोकतंत्र के महा महोत्सव में जमुई लोकसभा सीट के भाग्य विधाता बने विभिन्न राजनीतिक पार्टी के प्रत्याशियों के किस्मत का फैसला गुरुवार को हो गया। जमुई स्थित केकेएम कॉलेज में चल रहे मतगणना से पूर्व स्थल पर सुबह से ही प्रत्याशी व समर्थकों के बीच भीतरी उहापोह की स्थिति देखी गयी।मतगणना के परिणामों से पूर्व सभी समर्थक प्रत्याशियों के मन में उत्साह भरने का कार्य कर रहे थे, लेकिन मतदान के दिन मतदाताओं की खामोशी के कारण प्रत्याशियों में हर्ष, उमंग व उत्साह के साथ- साथ गम, विषाद व दिल जलने की भी स्थिति बनी हुई थी।

इधर, चुनाव में मात खाने वाले उम्मीदवारों ने ऊपरी मन से दबे स्वर में ही जनादेश का सम्मान किया। वहीं रालोसपा प्रत्याशी भूदेव चौधरी ईवीएम के जादुई करिश्मे की बात कहने से भी नहीं चूके।

पर इनकी बातों से ये साफ झलक रहा था कि चुनावी मौसम में  वे मतदाताओं की आकांक्षा को नहीं समझ पाये। इस कारण जमूई लोकसभा के मतदाताओं ने उन्हें नकार दिया है। जमुई लोस चुनाव के परिणाम में जीत का सेहरा बांधने वाले प्रत्याशियों के उत्साह में डूबे समर्थकों ने शांतिपूर्ण तरीके से खुशी का इजहार किया। 

पूर्व केंद्रीय मंत्री रामबिलास पासवान परिवार के साथ पहुंचे जमुई

वहीं चिराग की ऐतिहासिक जीत के बाद पूर्व केंद्रीय मंत्री सह लोजपा सुप्रीमो रामबिलास पासवान अपने पुत्र चिराग को आशीर्वाद देने परिवार के साथ जमुई पहुँचे।उन्होंने कहा कि बीते 05 वर्षों में चिराग ने जो ईमानदारी से कार्य किया है उसका फल आज जनता ने उसे दिया और मुझे चिराग पर पूरा भरोसा है कि जमुई लोकसभा क्षेत्र के जनता की मांगों को अवश्य ईमानदारी से पूरा करेगा।

 

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments