सर चढ़ कर बोल रही है हत्या, लूट ,बलात्कार की घटना

सर चढ़ कर बोल रही है हत्या, लूट ,बलात्कार की घटना

जमुई

शहर के कचहरी चौक के समीप अम्बेडकर प्रतिमा स्थल पर वाम दलों एवं महागठबंधन द्वारा एक दिवसीय धरना दिया गया। धरना में महागठबंधन के सभी जिलाध्यक्ष व कार्यकर्ता मौजूद थे। मौके पर महागठबंधन कार्यकर्ताओं ने कहा कि पूरा देश अराजकता की दौर से गुजर रहा है।

केंद्र में एनडीए सरकार के दोबारा सत्ता में आने के बाद पूरे देश की स्थिति बत्तर हो गई है। केंद्र की सरकार ने लोगों को ठगने का काम किया है। पूरे देश में कुछ भी बोलने और विचारों की अभिव्यक्ति पर पाबंदी यानी लोगों से उसका अधिकार व आज़ादी छीनी जा रही है।

साथ ही सत्ता में आने के बाद भारतीय जनता पार्टी ने पूरे देश में संवैधानिक संस्थाओं पर हमला करने का कार्य प्रारंभ कर दिया है। सत्ता और व्यवस्था के खिलाफ उठने वाली सभी आवाज को दबाने का प्रयास किया जा रहा है। राष्ट्रभक्ति के नाम पर देश में ऐसी अवधारणा बना दी गई है कि सरकार सवाल पूछने वालों को फौरन देशद्रोही घोषित कर रही है।

पूरे देश में नफरत का माहौल पैदा किया जा रहा है एवं दलितों, अल्पसंख्यकों, पिछड़ों के खिलाफ एक सुनियोजित अभियान चलाया जा रहा है ।मॉब लिंचिंग की घटनाओं में तेजी से वृद्धि हो रही है। चारों ओर हत्या,लूट आम हो गया है।अपराधी बेखौफ घूम रहे हैं।

कल कारखाने बंद होने से सभी क्षेत्र में उत्पादन कम हो रहा है,साथ ही युवा बेरोजगार बैठे हैं।एवं आर्थिक मोर्चे पर सरकार बुरी तरह से नाकाम हो गई है।केंद्र सरकार ने मीडिया पर अघोषित सेंसरशिप लगा दिया है।

देश की हालत आंतरिक रूप से बहुत ही खराब हो गई है और सरकार की नीतियों से देश की धर्मनिरपेक्ष छवि को नुकसान पहुंच रहा है।  राज्य में एनडीए गठबंधन की सरकार में भी आए दिन घोटाले हो रहे हैं।

जनता की सुनने वाला कोई नहीं है।हत्या, लूट ,बलात्कार की घटना सर चढ़कर बोल रही है।बिहार के युवाओं को काम नहीं मिल रहा है और युवा काम के लिए दर-दर की ठोकरें खा रहे हैं।पूरे राज्य में युवाओं का तेजी से पलायन हो रहा है।

नीतीश कुमार के राज में भी भ्रष्टाचार सर चढ़कर बोल रहा है। छात्र और नौजवान अपने भविष्य के लिए निजीकरण के खिलाफ सड़क पर आ गए हैं. बिहार में छात्र नौजवान एनडीए सरकार को माफ नहीं करेंगे। सरकार अविलंब विभिन्न आंदोलन में फंसे हुए लोगों को गिरफ्तार छात्रों तथा नौजवानों को रिहा करें।

वरना इसका सरकार को बहुत बड़ा गंभीर परिणाम भुगतना होगा।धरना के अंत में अपर समाहर्ता के माध्यम से राज्यपाल को अपनी मांगों से संबंधित मांग पत्र भेजा गया। मौके पर राजद अध्यक्ष अशोक कुमार राम, कांग्रेस जिलाध्यक्ष हरेंद्र सिंह ,रालोसपा जिलाध्यक्ष अरुण कुमार मंडल, भोला साव, राजेंद्र महतो,रामप्रवेश महतो, दिनेश देशबंधु, धर्मेंद्र पासवान ,शिवटहल मांझी, जयशेखर मांझी, धनंजय यादव, बबलू रावत समेत महागठबंधन के दर्जनों कार्यकर्ता मौजूद थे।

 

 

Comments