कैराना आज की खबरे

कैराना आज  की खबरे

भुट्टा तोड़ने पर तोडा बालक का हाथ, भर्ती

  • मण्डावर गांव में दबंग खेत स्वामी ने अपने पुत्र के साथ दिया घटना को अंजाम
  •  

वाज़िद अली कैराना 

कैराना।

गांव मण्डावर में एक दस वर्षीय बालक को मकई के खेत से भुट्टा तोडना महंगा पड़ गया। आरोप है कि दबंग खेत स्वामी व उसके पुत्र ने बालक के साथ जमकर मारपीट की, जिससे उसका हाथ टूट गया। पीड़ित बालक की माँ ने आरोपी पिता-पुत्र के विरुद्ध कोतवाली पुलिस को तहरीर दी है। 

क्षेत्र के गांव मण्डावर निवासी महिला फानों पत्नी इदरीश ने कोतवाली कैराना पर तहरीर देते हुए बताया कि उसका दस वर्षीय पुत्र आरिस ने शुक्रवार प्रातः लगभग दस बजे गांव के ही एक व्यक्ति के खेत से एक भुट्टा तोड़ लिया। आरोप है कि भुट्टा तोड़ने से बौखलाए खेत स्वामी व उसके पुत्र ने उसके पुत्र आरिस को लात-घूसों से बुरी तरह मारना-पीटना शुरू कर दिया। आरोप है कि खेत स्वामी के पुत्र ने उसके पुत्र आरिस को उठाकर कई बार जमीन से पटक दिया।

आरोपियों के प्रहार से उसके पुत्र का हाथ टूट गया। गांव के बच्चों के बताने पर वह मौके पर पहुँची और अपने पुत्र को आरोपियों से छुड़ाने का प्रयास किया। आरोप है कि आरोपी पिता-पुत्र ने उसके साथ भी गाली-गलौच व मारपीट की। उनके शोर मचाने पर आस-पास के लोग इकठ्ठा हो गए और आरोपियों से बामुश्किल उन दोनों को बचाया। आरोप है कि आरोपी आईन्दा मौका मिलते ही जान से मारने की धमकी देकर फरार हो गए। पीड़िता ने पुलिस से आरोपियों के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही करने की गुहार लगाई है। पुलिस ने तहरीर लेकर अग्रिम कार्यवाही शुरू कर दी हैं । 

 

 मुख्यमंत्री को पत्र भेज कर उपनिरीक्षक पर सामुहिक दुष्कर्म के आरोपितों से साठ गांठ कर कार्यवाही न करने का लगाया आरोप

  • -उपनिरीक्षक पर लगाया पीड़ित परिवार को धमकाने व डराने का भी आरोप
  • -आरोपितो द्वारा पीड़िता पक्ष पर फैसला न करने पर घर मे घुस कर दी जा रही जान से मारने की धमकी

वाज़िद अली कैराना 

कैराना। क्षेत्र के गांव खुरगान निवासी एक व्यक्ति ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को गांव खुरगान क्षेत्र के हल्का इंचार्ज पर उसकी भाभी के साथ छः आरोपियों द्वारा घर मे घुसकर गेंगरेप करने वाले आरोपितो से साठ गांठ कर उन्हें संरक्षण देने का आरोप लगाते हुई शिकायती पत्र भेजा। आरोप है कि आरोपित खुलेआम पीड़ित के घर मे घुसकर उसे फैसला करने का दवाब बना रहे है। फैसला न करने पर जान से मारने की धमकी दे रहे है। 

 क्षेत्र के गांव खुरगान निवासी एक व्यक्ति ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को शिकायती पत्र भेजते हुई बताया कि गत पांच माह पूर्व उसकी भाभी के साथ घर मे घुस गांव के ही छः लोगों ने जबर्दस्ती दुष्कर्म किया था। घर में मौजूद उसकी माँ व बहन के विरोध करने पर उक्त आरोपियों ने उसकी माँ व बहन के साथ मारपीट कर उन्हें घायल कर दिया था।पीड़िता द्वारा कोतवाली में तहरीर देकर  शोयब व अमजद पुत्रगण अय्यूब, अय्यूब पुत्र रहमत, जावेद व मेहरबान पुत्रगण जमील निवासी खुरगान आरोपितो के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराया था।

कोतवाली पुलिस पर पांच माह बीत जाने के बाद भी  आरोपितो को गिरफ्तार कर जेल नहीं भेजा गया। आरोप है कि हल्का इंचार्ज उपेंद्र कुमार द्वारा आरोपितो से साठ गांठ कर रखी है जिस कारण आरोपित खुलेआम गांव में ही घूम कर पीड़ित परिवार को फैसला न करने पर घर मे घुसकर जान से मारने की धमकी दे रहे है।

पुलिस उपनिरीक्षक पर आरोप लगया कि पीड़ित परिवार द्वारा आरोपियों के जान से मारने की शिकायत  उच्चाधिकारियों को करने पर कोतवाली में तैनात हल्का इंचार्ज उपनिरीक्षक उपेन्द्र कुमार उल्टा उन्हें ही धमकाते, डरते व गाली गलौच करते है ओर आरोपितों को उपनिरीक्षक का संरक्षण प्राप्त है

जिस कारण वह खुलेआम गांव में घूम रहे है। इस संबंध में क्षेत्राधिकारी कैराना राजेश कुमार तिवारी का कहना है कि साक्ष्यों के आधर पर जांच कर जल्द आरोपियों के खिलाफ कार्यवाही की जाएगी। उपनिरीक्षक पर लगे सभी आरोपों की जांच की जाएगी।

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments