प्रशासन की लापरवाही के चलते आई.टी.आई चौक बना मौत का चौक : राजेन्द्र आर्य

प्रशासन की लापरवाही के चलते आई.टी.आई चौक बना मौत का चौक : राजेन्द्र आर्य
  • बोले : नजायज कब्जो के चलते कोई भी स्लिप वे न बनने से हो रहे है हादसे


करनाल, 12 अप्रैल : राष्ट्रीय किसान मजदूर संगठन के हरियाणा प्रदेशाध्यक्ष राजेन्द्र आर्य दादूपुर ने आई.टी.आई चौक पर हुई छात्र की मौत को प्रशासन की लापरवाही बताया। उन्होंने कहा कि बसंत विहार, टीकरी, कैलाश, टपराना व आई.टी.आई चौक के नजदीक लगती कालोनियो के लोग सैंकड़ो बार जिला प्रशासन को आई.टी.आई चौक के चारो और हो रहे अवैध कब्जे छुड़वाने बारे गुहार लगा चुके है। राजेन्द्र आर्य ने कहा कि आई.टी.आई चौक के चारो और नजायज कब्जे के कारण ही कोई भी स्लिप-वे नहीं बन पाया है।

जिससे चौक पर भारी ट्रेफिक जाम रहता है। जो हादसों का मुख्य कारण बन रहा है। उन्होंने कहा कि यहां से निकलने वाले वाहन बड़ी तेजी के साथ निकलते है। यहां तक कि रोड़वेज कर्मचारी रेड सिग्नल को तोडक़र आगे निकल जाते है। जिससे हादसे बढ़ रहे है। इस हादसे में भी यहां रोडवेज चालक की लापरवाही सामने आ रही है। आपको बता दें कि इस चौक पर रेड सिग्नल टाईमिंग भी गलत है और इस चौक पर न तो बस स्टॉप है और ट्रेफिक पुलिस व पी.सी.आर भी नदारद रहती है। इस चौक से निकलने वाले भारी भरकम डंपर भी हादसों का कारण बन रहे है।

अंडरपास न मिलने की वजह से बसंत विहार, टीकरी, कैलाश, टपराना समेत अन्य कालोनियों के लोगों को नैशनल हाईवे पर विपरीत दिशा में चलना पड़ता है। जिसके चलते भी भारी ट्रेफिक जाम रहता है। टीकरी, कैलाश रोड जो कि सीधा जी.टी.रोड पार करके ओ.एस.डी की कोठी के सामने मिलता था। उस पर एक प्राइवेट अस्पताल के मालिक व कई लोगों ने मिलकर नजायज कब्जा कर रखा है। अगर उस रास्ते को छुड़वा लिया जाता है तो मॉडल टाऊन की तरफ से आने वाले उस रास्ते को स्लिप वे के तौर पर इस्तेमाल कर बिना आई.टी.आई चौक पहुंचे, जी.टी.रोड पर जाया जा सकता है। इस रास्ते को छुड़वाने के लिए कई बार नगर निगम में प्रयास किए गए। लेकिन इस समस्या का कोई समाधान अभी तक नहीं हो पाया है।

Comments