ईलाज के दौरान मैडिकल कालेज से फरार कैदी, पुलिस की गिरफत में

ईलाज के दौरान मैडिकल कालेज से फरार कैदी, पुलिस की गिरफत में

करनाल  

जैसा की विदित है कुछ दिन पहले एन.डी.पी.एस. एक्ट मामले में दस साल की सजा काट रहा एक कैदी हरिजिंद्र वासी मर्दान खेड़ा थाना असंध जिला करनाल शुगर की बीमारी के चलते कल्पना चावला राजकीय मेडिकल कालेज करनाल में इलाज के लिए भर्ती करवाया गया था,

जो दिनांक 01.05.19 की रात को बैड से उठकर पेषाब करने का बहाना बना वहां से निकला और मौका मिलते ही वहां से फरार हो गया। जिस संबंध में थाना सिविल लाईन करनाल में मुकदमा नं0- 355/02.05.19 धारा 223,224 भा.द.स. के तहत दर्ज किया गया था। 

यह मामला जैसे ही पुलिस अधीक्षक करनाल सुरेन्द्र सिंह भौरिया के संज्ञान में आया तो उन्होंने तुरंत मामले की जांच की जिम्मेवारी करनाल पुलिस की क्राइम युनिट सी.आई.ए-02 इन्चार्ज निरीक्षक दीपक कुमार को सौंपी। जिन्होंने उप-निरीक्षक षिवकुमार की अध्यक्षता में एक टीम का गठन कर आरोपी की तलाष शुरू की,

पुलिस टीम द्वारा उसके घर, रिष्तेदारों व जानकारों के यहां छापेमारी करने पर भी उसके संबंध में कोई जानकारी प्राप्त नहीं हुई। उप-निरीक्षक षिवकुमार द्वारा अपने गुप्त सुत्रों को आरोपी की तलाष में लगया गया। जो आज दिनांक 15.05.19 की सुबह सुत्रों के हवाले से उन्हें सुचना प्राप्त हुई कि आरोपी हरिजिन्द्र इस समय अपने गांव में अपने घर पर मौजुद है, यदि तुरंत कार्यवाही की जाए तो उसे काबू किया जा सकता है।  

सुचना मिलते ही पुलिस टीम ने गांव मर्दान खेड़ा में पहुंचकर आरोपी को उसके घर के पास से गिरफतार कर लिया। जहां से लाने के बाद तुरंत उसे माननीय अदालत के सामने पेष किया गया और अदालत के आदेषानुसार जेल भेज दिया गया।

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments