एक जन प्रतिनिधि के नाते अपने संसदीय क्षेत्र का समग्र विकास करना उनका लक्ष्य : सांसद संजय भाटिया

एक जन प्रतिनिधि के नाते अपने संसदीय क्षेत्र का समग्र विकास करना उनका लक्ष्य : सांसद संजय भाटिया

लघु सचिवालय में सांसद संजय भाटिया वीरवार को मीडिया से हुए रूबरू, कहा स्वास्थ्य, शिक्षा व रोजगार पर रहेगा मुख्य फोकस, हरियालीकरण, पोलीथिन उन्मूलन, जल बचाओ तथा स्वच्छता के कार्यक्रम के लिए चलाएंगे सामाजिक जागरूकता अभियान।

करनाल ( तिलक राज बंसल ) 

 करनाल लोकसभा के सांसद संजय भाटिया ने कहा कि एक जन प्रतिनिधि के नाते अपने संसदीय क्षेत्र का समग्र विकास करना उनका लक्ष्य है और इसके लिए वे जनता की सेवा में अधिक से अधिक समय व्यतीत करते रहेंगे। उन्होंने कहा कि चुनाव के समय उन्होंने तीन मुख्य विषयों पर फोकस किया था,

जिनमें स्वास्थ्य, शिक्षा व रोजगार हैं और वे इन पर गहरी रूची लेकर काम कर रहे हैं। इसके अलावा हरियालीकरण, पोलीथिन उन्मूलन, जल बचाओ तथा स्वच्छता के कार्यक्रम भी जारी रहेगें, जिनके लिए सामाजिक जागरूकता अभियान चलाएंगे।

सांसद गुरूवार को शहर के सैक्टर 12 स्थित लघु सचिवालय के सभागार में जिला विकास समन्वय एवं निगरानी कमेटी (दिशा) की अध्यक्षता करने के बाद मीडिया से रूबरू थे। उन्होंने बताया कि स्वस्थ रहना हर व्यक्ति का अधिकार है लेकिन इसके लिए जरूरी है कि उसे स्वास्थ्य सम्बंधी सभी सुविधाएं मुहैया हों।

प्रदेश व केन्द्र सरकार हांलाकि लोगों के स्वास्थ्य की रक्षा के लिए भरपूर कोशिश कर रही है, फिर भी कुछ लोग खासकर ग्रामीण क्षेत्रों व स्लम एरिया में स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ नही उठा पाते। ऐसे लोगों के लिए वे मोबाईल अस्पताल की सेवाएं शुरू करने पर जोर-शोर से विचार कर रहे हैं। इस सेवा के लिए एक मोबाईल वैन, उसमें सभी आवश्यक दवाईयां व उपकरण तथा एक डाक्टर होगा, जिसे प्राईवेट कम्ंपनियों के सीएसआर फंड से पैसा दे सकते है।

रोजगार विषय को लेकर उन्होंने कहा कि पढ़े-लिखे युवा सरकारी नौकरी या डीसी रेट पर जॉब हासिल करने के पीछे दौड़ते हैं जबकि वे अपनी कार्यक्षमता व योग्यता के आधार पर प्राईवेट नौकरियों मे इससे भी अच्छी पगार पा सकते हैं। दक्ष बेरोजगार विभिन्न स्कीमों से ऋण व प्रशिक्षण लेकर स्वयं का रोजगार स्थापित कर सकते हैं। जहां तक शिक्षा की बात है इस बारे उनका प्रयास रहेगा कि सभी स्कूलों में कुशल अध्यापक हों। बच्चों के खेल- कूद के लिए ग्राउंड, शौचालय की सुविधा तथा उनके माफिक पढ़ाई का वातावरण हो, ताकि गरीब घर का बच्चा भी प्राईवेट स्कूलों की तरह सरकारी स्कूलों मे जाकर अच्छी तालीम हासिल कर सके ।

सांसद ने पत्रकारों को बताया कि हरियालीकरण, स्वच्छता, जल बचाव व पोलिथीन उन्मूलन ऐसे विषय हैं, जो जनता की भागीदारी से ही अपने मकसद को प्राप्त कर सकते हैं। इनके लिए वे जनता के बीच जाकर उन्हें जागरूकर करने का काम करेंगे। ये विषय अति महत्वपूर्ण हैं और आज के समय की जरूरत बन चुके हैं। उन्होंने मीडिया को बताया कि लोगों की समस्याएं समझ कर उनका निदान करना जारी रखेगें। जनता के लिए वे 24 घंटे उपलब्ध रहेंगे। विकास कार्य पूरी पारदर्शिता के साथ करवाए जाएगें, वे स्वयं भी इमानदारी रखेगें और दूसरों को भी इसी तरह काम करने के लिए प्रेरित करेंगे।

 

Comments