स्वच्छ भारत मिशन के कार्यकारी उपाध्यक्ष ने व्हाट्सएप पर मैसेज मिलने के बाद गांव में जाकर गंदगी व बंद नाले की सफाई करवाई !

स्वच्छ भारत मिशन के कार्यकारी उपाध्यक्ष ने व्हाट्सएप पर मैसेज मिलने के बाद गांव में जाकर गंदगी व बंद नाले की सफाई करवाई !

करनाल ( तिलक राज बंसल ) 

स्वच्छता केवल सरकार ही नहीं अपितु हम सब की सामूहिक जिम्मेदारी है।  इस संदेश को हर आम जन को समझना होगा।  ये बात स्वच्छ भारत मिशन के कार्यकारी उपाध्यक्ष सुभाष चंद्र ने वीरवार को निगम के गांव झंझाड़ी में ग्रामीणों से बात करते हुए कही। वे यहाँ ग्रामीण यश वासन द्वारा उनके व्हाट्सअप पर गंदगी की समस्या का संदेश मिलने के बाद का मौके का जायजा लेने पहुंचे थे।  उनके साथ वार्ड 1 के पार्षद नवीन कुमार , सफाई ठेकेदार , सुपरवाइजर सहित निगम के अन्य अधिकारी मौजूद रहे

 यहाँ पहुंचते ही सुभाष चंद्र ने सबसे पहले सफाई के लिए जिम्मेदार कर्मचारियों को गाँव में नियमित सफाई करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा की बंद पड़े नाले लोगों के लिए सिरदर्द बने हुए हैं इसके बावजूद इनकी नियमित सफाई न होना निगम की लापरवाही को दर्शाता है

जिसे बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। निगम में शामिल होने के बाद अब निगम कर्मचारियों की जिम्मेदारी है की वे यहाँ के कचरे का निपटान करें। कुछ ग्रामीणों ने चेयरमैन को बताया की यहाँ पानी निकासी की कोई पुख्ता व्यवस्था नहीं है जिससे बारिश के दिनों में गलियों में पानी खड़ा हो जाता है और घरों का पानी आगे नहीं जाता।

 इस पर उन्होंने निगम पार्षद से इस समस्या का स्थाई समाधान करने की बात कही। निगम पार्षद नवीन कुमार ने कहा की इस कार्य में रेलवे की जमीन का मामला बाधा बना हुआ है। रेलवे की एनओसी मिलते ही यहाँ सीवरेज का काम शुरू हो जायेगा। ख़ास बात ये रही की जहाँ मिशन के उपाध्यक्ष सुभाष चंद्र ने निगम कर्मचारियों से अपनी जिम्मेदारी निष्ठां से निभाने के निर्देश दिए वहीं उन्होंने ग्रामीणों को भी स्वच्छता के प्रति जागरूक होने की अपील की।  

उन्होंने कहा की सफाई केवल एक विशेष वर्ग अथवा सरकार की जिम्मेदारी नहीं है अपितु ये सबका फर्ज है की वे स्वच्छता को अपने जीवन में लागू करें। उन्होंने गाँव में एक कमेटी बनाकर लोगों को स्वच्छता का महत्त्व समझाने और अपने आस पास सफाई रखने की बात कही।  उन्होंने कहा की गलियों में पशु बांधना ठीक नहीं इससे आने जाने वाले लोगों को परेशानी होती है और गंदगी फैलती है।

अगर वे फिर भी नहीं मानते तो उन्हें नोटिस दिया जाये। इस मौके पर मनीष कुमार, बलविंदर सिंह, नरेश कुमार, जयकिशन, प्रेम सिंह, रामकुमार सहित अन्य लोग मौजूद रहे।

 

Comments