ग्राम विकास अधिकारी की मनमानी का शिकार हो रही  पूरनपुर विकास खण्ड की ग्राम पंचायत कसगंजा

ग्राम विकास अधिकारी की मनमानी का शिकार हो रही  पूरनपुर विकास खण्ड की ग्राम पंचायत कसगंजा

ग्राम विकास अधिकारी की मनमानी का शिकार हो रही  पूरनपुर विकास खण्ड की ग्राम पंचायत कसगंजा

कसगंजा: पीलीभीत।                     

          रास्ते में कीचड़ कैसे निकले स्कूली बच्चे।  

स्वतंत्र प्रभात में खबर प्रकाशित होने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं की गई  

          विकासखंड पूरनपुर के ग्राम पंचायत कवीरपुर कसगंजा  के बाशिंदे आज भी मूलभूत सुविधाओं से वंचित हैं। वर्तमान में केन्द्र सरकार से लेकर राज्य सरकार तक गांव की सूरत बदलने को लेकर कवायद में जुटी है। गांव के वासियों  के लिए अच्छी सड़कों व मूलभूत सुविधाएं देने के लिए तमाम योजना संचालित की जा रही है।

मगर खन्ड विकास अधिकारी एवं ग्राम विकास अधिकारी व प्रधान लापरवाही करने से बाज नहीं आ रहे है । इनकी उदासीनता के चलते गांव में विकास का पहिया ही नहीं घूम रहा है इससे ग्रामीण गन्दगी भरी जिंदगी जीने को विवश हैं।

ग्राम कसगंजा के बाशिंदे आज भी मूलभूत सुविधाओं से वंचित हैं। ग्रामीणों ने बताया काफी लंबे समय से गांव में नाली का निर्माण  एवं खडन्जा निर्माण नहीं कराया गया है। नालिया टूटी होने की वजह से घरों से निकलने वाला गंदा पानी सड़कों पर भरा रहता है इससे गांव के पश्चिम स्थित आर एन बी विद्यालय के बच्चों को इस कीचड़ वाले रास्ते से निकलना पड़ता है। छात्र-छात्राओं के लिए एक समस्या बनी हुई है। राहगीरों व गांव वालों को इस रास्ते  से निकलने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है

वहीं लगातार पानी भरे रहने से बीमारियां पनपने का भी खतरा रहता है। ग्रामीणों का कहना है प्रधान के यहां चक्कर लगाते लगाते काफी परेशान हो चुके हैं लेकिन इस पर कोई ध्यान नहीं दिया।

सफाई कर्मचारी पर ग्राम विकास अधिकारी एवं कप्रधान की मेहरबानी होने के कारण प्रधान के मोहल्ले में एवं उनके खासमखास चमचो के यहां ही सफाई होती है ।बाकी गांव में सफाई कर्मचारी नदारद रहते हैं एवं सफाई कर्मचारी सफाई निजी कर्मचारियों को थोड़ा बहुत रुपए देकर सफाई करवाते हैं। रिपोर्ट कृष्ण गोपाल मिश्र

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments