की मैन की सतर्कता से टला बड़ा ट्रेन हादसा

की मैन की सतर्कता से टला बड़ा ट्रेन हादसा

मनकापुर,गोण्डा-

टूटी रेलवे ट्रैक देख कीमैन के होश उड़ गए और हिम्मत दिखाते हुए उसने रेलवे के उच्च अधिकारियों को घटना की सूचना दी। कीमैन की सतर्कता से बडा रेल हादसा टाला जा सका।

बताते चलें कि गोण्डा गोरखपुर रेल प्रखंड पर मोतीगंज झिलाही स्टेशन के मध्य रामपुर गांव के निकट किलोमीटर संख्या 639/4-5 के बीच डाउन साइड की रेलवे ट्रैक करीब एक इंच टूट गई थी और टूटी रेलवे ट्रैक पर ट्रेनों का संचालन हो रहा था। रेलवे विभाग को इसकी कोई सूचना नहीं थी,सभी ट्रेनें अपने नियत की रफ्तार से चल रही थी। 

आज सुबह इसी रूट पर रेलवे ट्रैक की देख रेख के लिए नियुक्त कीमैन इरसाद अली रेलवे लाइन की देख रेख करते हुए जैसे ही किलोमीटर संख्या 639/4-5 के पास पहुंचा तो देखा कि रेलवे ट्रैक करीब एक इंच टूटी हुई है।

रेलवे ट्रैक कब टूटी और इस रेलवे ट्रैक से कितनी ट्रेनें गुजरी होगी यह सोच कर उसके होश उड़ गए। लेकिन की मैन ने हिम्मत दिखाते हुए घटना की सूचना अपने रेलवे के उच्च अधिकारियों को दी। तथा पी डब्लू आईं दीना नाथ शर्मा को बताया।टूटी रेलवे ट्रैक के पास खड़ा कीमैन इरसाद अली ने  देखा कि इसी लाइन पर दरभंगा अन्तोदय टेन न० 22552 मेल ट्रेन तेज़ रफ़्तार में आ रही है बिना समय गंवाए ही कीमैन इरसाद अली ने हिम्मत दिखाते हुए करीब 600 मीटर दूरी पर पटाखा टैंक में बांध दिया।

ट्रेन के आते ही पटखे की आवाज होते ही ट्रेन रूक गई और करीब 20 मिनट तक ट्रेन खड़ी रही उसके बाद ट्रेन धीमी रफ्तार से आगे बढ़ी।

कीमैन इरसाद अली ने बताया आज सुबह मैं रेलवे ट्रैक की देख रेख करते हुए चल रहा था कि जैसे ही किलोमीटर संख्या 639/4-5 के पास रामपुर गांव के निकट पहुंचा तो देखा रेलवे ट्रैक की डाउन साइड की एक जगह टूट कर निकल गई है और गड्ढा हो गया है जिसकी सूचना मैंने अपने उच्च अधिकारियों को दी और करीब 600 मीटर दूरी पर सांकेतिक पटखा बांध दिया।उस स्थल पर मैं सुबह करीब 7:45 पर पहुंच कर स्तिथि को देखा।

पी डब्लू आईं ने दीना नाथ शर्मा ने बताया कि रेलवे ट्रैक का कार्य पूरा किया जा रहा है और कासन में इस डाउन रेलवे ट्रैक पर ट्रेनें चलाई जा रही है।

Comments