कार्तिक पूर्णिमा पर श्रद्धालुओं ने नारायणी गंगा में की शाही स्नान और गौदान

कार्तिक पूर्णिमा पर श्रद्धालुओं ने नारायणी गंगा में की शाही स्नान और गौदान

शैलेश यदुवंशी

खड्डा,कुशीनगर।

कार्तिक पूर्णिमा के पनियहवा-बगहा पुल के नीचे नारायणी तट पर श्रद्धालुओं ने मंगलवार की सुबह 2 बजे से ही नारायणी नदी में स्नान करना शुरू कर दिया। सुबह संतों द्वारा शोभा यात्रा निकाल कर गंगा आरती,गंगा पूजन व संतों व सामाजिक कार्यकर्ताओं ने सामूहिक रूप से शाही स्नान कर समाज को समरसता का संदेश दिया। 

उपस्थित लोगों ने नारायणी के महत्व को गिनाते हुए कहा कि स्वच्छ शलिता नारायणी माता के जल में किसी भी गंदे शहर का गंदा पानी नही आता है ।

वही खड्डा एसडीएम देशदीपक सिंह,खड्डा थानाध्यक्ष रामाशीष यादव ने रात से ही मेला व नारायणी घाट पर सुबह से ही मेला में भ्रमण कर स्थिति का मुआयना ले रहे थे।

युवा भाजपा नेता कर्मवीर साहनी,सामाजिक कार्यकर्ता भुआल गोड़,चंदेश्वर गुप्ता,भाजपा सेक्टर प्रभारी अरविन्द पाण्डेय,हियुवा ब्लाक अध्यक्ष प्रशांत राय आदि ने बताया कि नारायणी नदी में त्रिवेणी से तीन नदियों का पानी आता है इस कारण इसका महत्व और बढ़ गया है। यहा सीमावर्ती महराजगंज, नेपाल, कुशीनगर आदि स्थानों से आये लोग स्नान करते है।

Comments