खण्डहर में तब्दील होता प्राथमिक विद्यालय खैराकनकू

खण्डहर में तब्दील होता प्राथमिक विद्यालय खैराकनकू


30 वर्षो में नही हुआ भवन का कायाकल्प, जर्जर

 

हैदरगढ़ बाराबंकी।

योगी सरकार भले ही प्रदेश की शिक्षा व्यवस्था चुस्त दुरूस्त करने मेंं करोड़ो रूपये पानी की तरह बहा रही हैं लेकिन शिक्षा के नाम पर लूट-खसोट अभी भी बरकरार है विद्यालय भवन निर्माण से लेकर कराये जा रहे

मरम्मत कार्य तक साहब का कमीशन तय है यदि इसका प्रत्यक्ष उदाहरण देखना है तो ब्लाक त्रिवेदीगंज के खैरा कनकू गांव स्थित प्राथमिक विद्यालय में आकर देखा जा सकता है।

30 वर्ष बीत जाने के बाद भी भवन का प्लास्टर नही हो सका, यही नही लाखो रूपये खर्च करने के बाद जो अर्धनिर्मित रसोईया पड़ी है और वहां गंदगी का ढे़र लगा है।

यह तो सिर्फ उदाहरण है यदि देखा जाये तो ब्लाक स्तर पर कई ऐसे विद्यालय बने है जहां साहब के इशारे पर ठेकेदारो ने पैसा तो हजम कर लिया लेकिन कार्य विल्कुल शून्य है।

इस सम्बन्ध में जब विभाग के कुछ जिम्मेदारो से बात किया गया तो सब ने चुप्पी साध ली इससे यही प्रतीत होता है कि मामला विभागीय अधिकारियो के संज्ञान में भी है।

जानकारी के मुताविक विकास खण्ड त्रिवेदीगंज अन्तर्गत ग्राम पंचायत खैराकनकू गांव स्थित प्राथमिक विद्यालय की हालत दयनीय होती जा रही है भवन पूरी तरह से जर्जर हो चुका है। जमीन में लगे फर्श का तो नामो निशान ही मिट गया, भवन की सुरक्षा के लिए बनाई गयी

चहर दीवारी कब बनी और कब टूटी कुछ नही पता। इस विद्यालय के बारे में जब आस पास के ग्रामीणों से पूछा गया तो उनका कहना था कि लगभग 30 वर्ष पूर्व इस विद्यालय का निर्माण हुआ था इसके साथ ही भ्रष्टाचार का दीमक लग गया था

आज विद्यालय कब गिर जाये कुछ पता नही इसका पुरूषाहाल लेने वाला कोई नही कभी कभार कोई साहब आते है तो खानापूर्ति कर वापस हो जाते है।

विद्यालय में तैनात सहायक अध्यापक दिनेश कुमार वर्तमान में शिक्षण कार्य की जिम्मेदारी निभा रहे जो शरीर से लगभग 60 प्रतिशत से ज्यादा विकलांग है। उन्होंने बताया कि विद्यालय में 140 बच्चों का नाम लिखा है और समस्त विद्यालय की जिम्मेदारी वह अकेले ही निर्वाहन कर रहे है इससे पूर्व संध्या वर्मा को वहा तैनात थी लेकिन अब वहा से हटा कर किन्ही कारणोवश अब उन्हे मकनपुर विद्यालय में तैनात कर दिया गया है।

वही इस सम्बन्ध में जब खण्ड शिक्षा अधिकारी मनमोहन सिंह से बात किया तो उनका भी कहना था कि इसकी सूचना जनपद के उच्चाधिकारियो को भेजी गई है।
 

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Loading...
Loading...

Comments