खराब हुये हैंडपंपो की नही फिक्र नगर पंचायत को

खराब हुये हैंडपंपो की नही फिक्र नगर पंचायत को

खराब हुये हैंडपंपो की नही फिक्र नगर पंचायत को

तिन्दवारी-बाँदा।

दूरदराज इलाको से कस्बे में आये लोगो को प्यास बुझाने के लिए हैंडपंपो का सहारा लेना पड़ता है ,अगर जर्जर हैंडपंप  ही गन्दा पानी  दे रहा हो तब प्यासे की हालत क्या होगी आप अंदाजा लगा सकते है।

वही नगर पंचायत ने कस्बे के भीड़भाड़ वाली जगहों पर अभी तक साफ सुथरे प्याऊ नही खुलवा पायी जिससे लोगो को हैंडपंपो व पैसे खर्च करके पानी के पाउचे व बोतलें खरीदकर प्यास बुझानी पड़ रही हैं।

  कस्बे के काजल स्टूडियो के मालिक सुमन्त द्विवेदी ने बताया कि मेरे दुकान के सामने लगे हैंडपंप को एक वर्ष बीत गए अभी तक हैंडपंप का फाउंडेशन नही बना जिससे हैंडपंप के इर्दगिर्द गन्दगी फैली हुई है ,गन्दगी के चलते लोगो को पानी पीने में बड़ी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है।
 
जिसकी शिकायत मेरे द्वारा नगर पंचायत में कई बार की गई फिर भी अभी तक नगर पंचायत ने कोई सुध नही ली। इसी तरह कस्बे के थाने के पास व पपरेन्दा तिराहे के पास लगे हैंडपंप जमींदोज होकर सिर्फ शोपीस बनकर रह गए ।
 
कस्बे में एक दर्जन से भी ज्यादा हैंडपंपो का जलस्तर गिर जाने से कस्बेवासियो को पानी की भारी किल्लत झेलनी पड़ रही है।कस्बे के लोगो ने इस समस्या से निजात दिलाने के लिए जिला प्रशासन से मांग की है।
 
रिपोर्ट-कौशल किशोर

Comments