कम उम्र की प्रतिभाओं को निखारने की कवायद

कम उम्र की प्रतिभाओं को निखारने की कवायद

खेल मंत्री राज्यवर्धन राठौर ने कम उम्र से ही खेल प्रतिभाओं को निखारने के लिए खेलो इंडिया के तहत एक नई योजना शुरू करने का एलान किया, खेलो भारत के समापन पर बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने सफल आयोजन के लिए की भारतीय जनता युवा मोर्चे की सराहना।

 

देश में पारंपरिक खेलो को बढ़ावा देने के लिए भारतीय जनता युवा मोर्चा द्वारा आयोजित किए गए खेलो भारत का आज भव्य समापन हुआ। इस मौके पर खिलाड़ियों का उत्साह बढ़ाने के लिए भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और खेल मंत्री कर्नल राज्यवर्धन राठौर भी उपस्थित थे।

भाजपा अध्यक्ष ने जहां इन खेलो के सफल आयोजन के लिए युवा मोर्चे को सराहा वहीं खेल मंत्री ने कम उम्र से ही खेल प्रतिभाओं को निखारने के लिए खेलो इंडिया के तहत एक नई योजना शुरू करने की घोषणा की । 

राजधानी दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में भारतीय जनता युवा मोर्चा द्वारा देश में खेल की विकास की दिशा में महत्वपूर्ण  कदम उठाते हुए खेलों भारत का आयोजन किया गया। 2 दिन तक चले इन खेलो के माध्यम से देश के विभिन्न राज्यों से आए बच्चो ने अपनी प्रतिभा को तराशने का काम किया। इन खेलों का मकसद युवाओं को ज्यादा से ज्यादा संख्या में खेलों से जोड़ना है।

इस दौरान खिलाड़ियो का उत्साह बढाने के लिए भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, खेल मंत्री  राज्यवर्धन राठौर, केन्द्रीय मंत्री जितेन्द्र सिंह के साथ भारतीय जनता युवा मोर्चा की राष्ट्रीय अध्यक्ष पूनम महाजन ,सांसद मनोज तिवारी  और किरण खेर भी स्टेडियम पहुंचे। इस मौके पर अमित शाह ने  इन खेलो के आयोजन के लिए भारतीय जनता युवा मोर्चे की सराहना की । 

इस मौके पर खेलमंत्री कर्नल राज्यवर्धन राठौर ने कम उम्र से ही खेल प्रतिभाओं को निखारने के लिए खेलो इंडिया के तहत एक नई योजना शुरू करने की बात कही। इस योजना के तहत सरकार अगले दो-तीन महीनों में एक मोबाईल एप लाने जा रही है। इस एप से 8 से 12 वर्ष तक के खेल प्रतिभाओं की फिटनेस मैपिंग की जाएगी, इसमें राज्यों और स्कूलों की भागीदारी से काम होगा। 

गौरतलब है कि खेलो भारत 2018 की शुरुआत छह जुलाई को हुई थी जिसमें कबड्डी, कुश्ती, खो-खो, मलखंब और रस्साकशी में 27 राज्यों के 733 जिलों की 8 हजार 834 टीमों के 1 लाख युवाओं ने हिस्सा लिया था। इनमें 20 टीमों के बीच फाइनल खेला गया। 

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments