डीएम की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई सम्पूर्ण समाधान दिवस,अधिकारियों को जनसमस्या समाधान के लिए दिया हिदायत

डीएम की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई सम्पूर्ण समाधान दिवस,अधिकारियों को जनसमस्या समाधान के लिए दिया हिदायत

कुशीनगर,उप्र।

सरकार का महत्वपूर्ण कार्यक्रम संपूर्ण समाधान दिवस का आयोजन सभी तहसीलों में संपन्न हुआ।

जिलाधिकारी डॉ0 अनिल कुमार सिंह ने जन सामान्य की शिकायतों एवं समस्याओं का त्वरित गति के साथ निस्तारण संभव हो सके इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए उत्तर प्रदेश सरकार के महत्वपूर्ण कार्यक्रम का जिलाधिकारी ने आज कप्तानगज तहसील में संपूर्ण समाधान दिवस की अध्यक्षता करते हुए जनता की शिकायतों को सुना गया।

जहां पर कुल 70 शिकायतें दर्ज हुई और 12  शिकायतों का निस्तारण जिलाधिकारी डॉ0 सिंह के द्वारा मौके पर ही विभागीय अधिकारियों के माध्यम से सुनिश्चित कराया गया। 

जिलाधिकारी ने  संपूर्ण समाधान दिवस अवसर पर  पीडब्ल्यूडी सहित समस्त निर्माण कार्यदायी संस्थाओं को निर्देशित करते हुए कहा कि जनपद के सभी सड़कों को गड्ढा मुक्त किये जाने हेतु तत्काल कार्यवाही सुनिश्चित करें तथा सड़कों पर जल जमाव न हो इसके लिये जल निकासी की समुचित व्यवस्था किये जाने का भी निर्देश सम्बंधित को दिये।

 इसी प्रकार उन्होंने कन्या सुमंगला योजना की प्रगति की जानकारी लेने पश्चात जिला प्रोवेशन अधिकारी को अधिक से अधिक पात्र जनों को लाभान्वित किये जाने हेतु प्रभावी कार्यवाही किये जाने का निर्देश दिया  गया।उन्होंने जिला पंचायत राज अधिकारी एवं जिला कार्यक्रम अधिकारी को विभाग से संबंधित कार्यों को गंभीरता से लेते हुए कार्यवाही सुनिश्चित किये जाने हेतु निर्देशित किया गया। 

 जिलाधिकारी ने कहा कि तहसील दिवस में प्राप्त शिकायतों का संबंधित अधिकारियों के माध्यम से निर्धारित अवधि  में निस्तारण कराना सुनिश्चित किया जाए। संपूर्ण समाधान दिवस समापन अवसर पर जिलाधिकारी डॉ0 सिंह ने समस्त जिला स्तरीय अधिकारियों को कड़े निर्देश देते हुए कहा कि तहसील संपूर्ण समाधान दिवस में जनता की जो शिकायतें दर्ज हो रही हैं, उनका समय अवधि के भीतर पूर्ण गुणवत्ता के साथ निस्तारण सुनिश्चित किया जाए। 

उन्होंने स्पष्ट किया कि इस कार्य में किसी भी स्तर पर शिथिलता को बहुत ही गंभीरता के साथ लिया जाएगा और संबंधित अधिकारी के विरुद्ध प्रतिकूल प्रविष्टि की कार्यवाही प्रस्तावित की जाएगी। अतः सभी अधिकारी गण सरकार के इस महत्वपूर्ण कार्यक्रम को बहुत ही गंभीरता के साथ लेकर जनता की शिकायतों एवं समस्याओं का समयबद्धता के साथ निस्तारण करेंगे।

 

जिलाधिकारी ने कहा कि जनता की शिकायतों को लेकर उत्तर प्रदेश सरकार का यह महत्वपूर्ण कार्यक्रम है और इस कार्यक्रम की समीक्षा शासन स्तर से सीधे की जा रही है, जिसमें शासन शिकायतकर्ता से डिस्पोजल के संबंध में जानकारी प्राप्त कर रहा है। सभी अधिकारीगण बहुत ही गंभीरता के साथ लेकर पूर्ण मानकों के अनुरूप स्थल पर जाकर जनता की समस्याओं एवं शिकायतों का निस्तारण सुनिश्चित करें। 

दर्ज शिकायत का निस्तारण होने के उपरांत संबंधित अधिकारियों द्वारा तत्काल प्रभाव से संबंधी सूचना तहसील एवं शिकायतकर्ता को भी उपलब्ध कराई जाए। उन्होंने यह भी स्पष्ट किया कि जिला प्रशासन की ओर से भी वरिष्ठ अधिकारियों के माध्यम से गुणवत्ता की जांच कराई जा रही है।  ताकि सरकार के इस महत्वपूर्ण कार्यक्रम का अधिक से अधिक लाभ जनता को प्राप्त हो सके।

इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक विनोद कुमार मिश्र, प्रभारी मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ0 सुदर्शन सोनकर, उप जिलाधिकारी कप्तानगज राशिद अनवर, जिला वेसिक शिक्षा अधिकारी अरुण कुमार, जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी देवेंद्र राम, जिला कृषि अधिकारी प्यारे लाल, डीसी मनरेगा प्रेमप्रकाश त्रिपाठी, मनोरंजन कर विभाग से राजेश कुमार सिंह, जिला पंचायत राज अधिकारी राघवेंद्र दिवेदी, सहित अधि0 अभि0 बाढ़ भरत राम , पीडब्लूडी, सहित अन्य जनपद स्तरीय  अधिकारी व तहसील स्तरीय अधिकारी गण उपस्थित रहे।

Comments