कोटेदार के खिलाफ लोग हुए लामबंद!

कोटेदार के खिलाफ लोग हुए लामबंद!

उपजिलाधिकारी को दिया शिकायती प्रार्थनापत्र

परसपुर,गोण्डा-

विकास खण्ड के  ग्राम पंचायत चन्दापुर किटौली में धनलाल 15 साल से कोटेदार हैं।

प्राप्त जानकारी के अनुसार वर्तमान में इनका मूल निवास ग्राम पंचायत पसका में है जिसके कारण खाद्यान्न वितरण भी अपने निवास पसका में ही करते हैं।

ग्रामीणों का आरोप है कि जब  ग्रामवासी अपना गल्ला लेने पसका आते हैं तो पता चलता है कि कोटेदार गोण्डा या कहीं और किसी काम से गये हैं जिससे लोगों को बड़ी परेशानी उठानी पड़ती है।

साथ ही अधिकतर लोगों से मशीन पर अँगूठा लगवा कर गल्ला ही नहीं दिया जाता है। पुराने कोटेदार होने के कारण विभागीय अधिकारियों व कर्मचारियों से अच्छी पकड़ है व इनकी मिलीभगत से ही जनता में वितरित होने वाला अनाज साहूकारों की दुकान में बिकता है।

कोटेदार की मनमानी व कार्यशैली से असंतुष्ट लोगों ने गुरुवार को इकट्ठा होकर उपजिलाधिकारी कर्नलगंज को अपना लिखित शिकायती पत्र देकर कोटेदार के खिलाफ जाँच और उचित कार्यवाही की माँग किया साथ ही कोटा चन्दापुर किटौली ग्राम सभा के किसी मूल निवासी को देने की भी माँग की। जिसमें थानेदार, रामजीत, जिलेदार, हरीराम समेत सैकड़ों ग्रामवासी शामिल रहे।

Comments