एक ओर चिकित्सक कहते हैं कि दूषित जल पीने से बीमारियां होती हैं वहीं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में दूषित पानी की व्यवस्था की गई

एक ओर चिकित्सक कहते हैं कि दूषित जल पीने से बीमारियां होती हैं वहीं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में दूषित पानी की व्यवस्था की गई

लखीमपुर खीरी/ स्वतंत्र प्रभात

मामला जनपद लखीमपुर खीरी के विकासखंड फूलबेहड़ के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का है जहां पर कहने के लिए बीमारों का उपचार होता है लेकिन सच्चाई यह है कि अस्पताल खुद ही बीमार है एक तरफ सरकार बड़े बड़े दावे करती है कि गंदगी  और प्रदूषण से मुक्त भारत करना है 

स्वच्छता और सफाई पर बड़े लंबे लंबे भाषण दिए जाते हैं वहीं दूसरी ओर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र फूलबेहड में सारे  दावे झूठे दिखाई देते हैं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर आने वाले मरीजों एवं तीमारदारों के पीने के लिए पानी की भी व्यवस्था नहीं है जहां पर पीने वाले पानी  के लिए नल लगा है वहां पर  चारों तरफ खढ्ढे में पानी भरा है

 जल भराव के कारण पानी अत्यंत दूषित है और नल के पानी में  दुर्गंध आती है तो वहीं दूसरी ओर अस्पताल की सफाई से निकलने वाला कूड़ा एवं मेडिकल अवशिष्ट भी नल के आसपास ही डाले जाते हैं

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments