पत्रकारों पर हो रहे हमलों व फर्जी मुकदमों को लेकर पत्रकारों ने की बैठक।

पत्रकारों पर हो रहे हमलों व फर्जी मुकदमों को लेकर पत्रकारों ने की बैठक।

पत्रकारों पर हो रहे हमलों व फर्जी मुकदमों को लेकर पत्रकारों ने की बैठक।

निष्पक्ष पत्रकारिता करने वालों के लिए संघर्ष करने का है समय।

संवाददाता नरेश गुप्ता


लखीमपुरखीरी


मीडिया शब्द जितना कहने और सुनने में अच्छा लगता है लेकिन मौजूदा समय में उतना ही मीडिया कर्मियों के लिए निष्पक्ष होकर काम करना एक चुनौती बन गया है।देश औऱ प्रदेश में आये दिन पत्रकारों पर जानलेवा हमले होना व उनको फर्जी मुकदमों में फँसाना या धमकियाँ देना जैसे आम बात हो गया हो।कहने को तो कह दिया जाता है कि पत्रकार भीड़ का हिस्सा नही है।और प्रशासन पत्रकारों की हर सम्भव मदद करे।लेकिन यह सब महज एक मजाक बन कर रह गया है।

सरकार पत्रकारों की सुरक्षा को लेकर लापरवाही भरा रवैया अपना रही है और यही कारण है कि मौजूदा समय मे पत्रकारों पर आएदिन हमले हो रहें हैं।वैसे तो पत्रकार बिना किसी तनख्वाह के दिन-रात मेहनत कर सच्चाई को उजागर कर समाज की कुरीतियों व आमजनता की दबी हुई आवाज को उठाता है लेकिन बदले में उसको क्या मिलता है या तो उस पर जानलेवा हमला या फिर फर्जी मुकदमें में फंसाने की धमकी।

आखिर पत्रकार जो कि निःस्वार्थ भाव से आमजनता में समाजसेवा करता है और समाज में दबे तमाम लोगों को न्याय दिलाने का प्रयास करता है फिर भी ऐसे पत्रकारों के साथ देश व प्रदेश में ऐसा व्यवहार क्यों हो रहा है यह अपने आप मे एक बड़ा सवाल है।बीते रविवार लखीमपुरखीरी के विलोवी मैदान के निकट पंजाबी रसोई रेस्टोरेंट में जिले के तमाम पत्रकारों ने एक बैठक कर आपस मे एकता बनाये रखने व अन्याय के खिलाफ खुलकर आवाज उठाने की बात कही।

वहीं दैनिक स्वतंत्रहित जिलाप्रभारी मिथलेश शुक्ला ने कहा कि हम सभी पत्रकारों को डरने की कतई आवश्यकता नही है सभी पत्रकार बन्धु देश के संविधान द्वारा दिये गए अधिकारों के तहत ही कार्य करें।सभी एकता बनाये रखें व किसी भी पत्रकार बन्धु को समस्या आने पर उसकी सहायता जरूर करें। इस मौके पर पसगवां से नीरज पांडेय,बरवर से विमल शुक्ला,उचौलिया से विनय कुमार,शानू खान, ताजपुर से मतलूब गाजी,मोहम्मदी से गुरप्रीत सिंह,निघासन से सचेत मौर्य,सिंगाही से बालकुमार यादव,बेलरायां से कुलदीप वर्मा, बिजुआ से अतुल पांडेय सहित अन्य तमाम पत्रकार मौजूद रहे और सभी ने अपने अपने विचार रखे।सभी पत्रकारों को सम्मानित करते हुए स्वतंत्रहित ब्यूरोचीफ मिथलेश शुक्ला ने एक एक डायरी व पेन भेंट स्वरूप प्रदान किया।

Comments