पशु सेवा केंद्र  जबरौली में नही आते डॉक्टर , ग्रामीणों में रोष ।

पशु सेवा केंद्र  जबरौली में नही आते डॉक्टर , ग्रामीणों में रोष ।

मोहनलालगंज 
                लखनऊ 

पशु सेवा केंद्र  जबरौली में नही आते डॉक्टर , ग्रामीणों में रोष ।।

राजेश मिश्रा की रिपोर्ट मोहनलालगंज

मोहनलालगंज लखनऊ

एक ओर प्रशासन पशुवों के स्वास्थ्य को लेकर बड़ी बड़ी योजनाएं चलाकर उनके बेहतर स्वास्थ्य के लिए गावो में सरकारी पशु सेवा केंद्र लाखो रुपये की लागत के बजट से बनवाकर ग्रामीणों के पालतू जानवरों की देखभाल के लिए उनमे पशु चिकित्सक तैनात कर  दिए है ,

वही दूसरी ओर पशु सेवा केंद्र जबरौली मे पशु चिकित्सक तो तैनात है , पर आते कभी नही जिससे ग्रामीणों को अपने पशुओ का  इलाज करवाने  हेतु बाहर से प्राइवेट महंगे डॉक्टरों को बुलाकर उनका इलाज करवाना पड़ रहा है जिससे जबरौली गाव के ग्रामीणों में भारी रोष ब्याप्त है ,  ग्रामीणों के मुताबिक सितंबर माह में डॉक्टरों की टीम जबरौली गाव आयी थी , और पशुओ को टीके लगाकर महज खानापूर्ति कर दी , उसके बाद से अब तक न तो पशु सेवा केंद्र खुला और न ही कोई चिकित्सक वहां पर आया ,

ग्रामीणों ने कई बार ग्राम प्रधान से लेकर तहसील दिवस में भी लिखित व मौखिक इस बात की शिकायत कर चुके है बावजूद उसके भी समस्या जस की तस बनी है , ग्रामीणों की माने तो पशु  सेवा केंद्र में  तैनात पशु चिकित्सक सरकार से वेतन तो ले रहे है तो केंद्र पर आकर ग्रामीणों के दुर्बल बीमार पशुओ का इलाज क्यो नही कर रहे है । अब भला ऐसी सूरत में जिम्मेवार इन पर कार्यवाही क्यो नही करते ? और सरकार द्वारा लाखो रुपये खर्च करके बनवाया गया पशु सेवा केंद्र धूल खा रहा है , कई ग्रामीणों ने बताया कि हम लोग अपने बीमार पशुओ के इलाज के लिए बाहर से महंगी फीस देकर चिकित्सक बुलाकर उनकी चिकिसा करा लेते है क्या करे जहां भी शिकायत की सिर्फ आश्वासन ही मिला ,

लेकिन अमलता के काम पर कुछ नही किया गया , कई ग्रामीणों ने तो यहां तक कह डाला कि पशु सेवा केंद्र में तैनात पशुचिकित्सक सिर्फ कागजों पर सेवा कर रहे है , जिससे ग्रामीणों में भारी रोष पनप रहा है , अगर समय रहते ग्रामीणों की बात पर गौर नही किया गया तो ग्रामीण अब भारतीय किसान यूनियन की मदद से अपनी बात को प्रशासन् तक आंदोलन कर  पहुचाने के लिए विवश है , आखिर ग्रामीण अपने मन की बात कही भी तो किससे , और उनके दिलों के दर्द को सुने भी तो कौन ?? 

राजेश मिश्रा मोहनलालगंज

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Loading...
Loading...

Comments