भदोही में गंगा घाटों पर लाखों ने लगाई आस्था की डूबकी।

भदोही में गंगा घाटों पर लाखों ने लगाई आस्था की डूबकी।

भदोही में गंगा घाटों पर लाखों ने लगाई आस्था की डूबकी।

मनोज बर्मा (रिपोर्टर )
 

भदोही।

कार्तिक पूर्णिमा के अवसर पर जिले में प्राचीन रामपुर गंगा घाट पर लाखों की संख्या में स्नानार्थियों ने गंगा में डुबकी लगाई। सोमवार की शाम से ही लोगों का रेला लगातार मंगलवार तक चलता रहा।

जिला प्रशासन दो दिन पूर्व से ही ब्यवस्था में लगे रहे। जिससे स्नानार्थी को किसी तरह की कोई परेशानी न उत्पन्न होने पाए। रामपुर गंगा घाट पर उत्तर से काफी स्नानार्थी आते है।

जिले के उपजिलाधिकारी, पुलिस अधीक्षक, क्षेत्राधिकारी, कोतवाली निरीक्षक, सहित कई थानों की पुलिस स्नानार्थियों की सुरक्षा ब्यवस्था में तैनात रही। गंगा किनारे गोताखोरों के साथ मोटरवोट की ब्यवस्था रही, नगर पालिका परिषद गोपीगंज के अध्यक्ष ने पालिका की तरफ से साफ सफाई, पानी टैंकरों की जगह जगह , रात्रि के समय बिजली की सुचारू ब्यवस्था की गई।

कार्तिक पूर्णिमा का एक अलग ही महत्व है।क्षेत्र स्थित अति प्राचीन गंगा घाट रामपुर घाट पर कार्तिक पूर्णिमा के पावन पर्व पर गंगा स्नानार्थियो का सुबह से ही भारी भीड़ देखने को मिला हिन्दू धर्म में पूर्णिमा को बेहद महत्वपूर्ण माना जाता है। कार्तिक माह में शुक्ल पक्ष को आने वाली पूर्णिमा का विशेष महत्व बताया जाता है ।

हिन्दू धर्म मे पूर्णिमा का महत्व ज्यादा होता है , इस दिन को लोग देव दीपावली के रूप में भी मनाते हैं। मान्यता है कि भगवान शिव धरती पर आते हैं। शिवजी की अाराधना की जाती है। इस अवसर पर घाटों पर मंदिरों पर दीप जलाकर इस त्योहार को काफी उल्लास के साथ मनाया जाता है।

इस दिन पूजन का भी विशेष महत्व रहता है। मान्यता है कि इस दिन भगवान शिव ने एक दानव का वध किया था जिसके मारे जाने पर देवताओं ने विजय दिवस मनाया और दीपक जलाकर अपनी खुशी जाहिर की थी। शास्त्रों के अनुसार माना जाता है कि इस दिन देवी-देवता पृथ्वी पर आते हैं।

इस दिन पूजा-पाठ करने से लंबी उम्र और सकारात्मक ऊर्जा मिलती है। गोपीगंज नगर से तीन किलोमीटर रामपुर घाट तक दोनों तरफ दुकाने सजी रही,तरह-तरह के पकवान एवं हर तरह की दुकानें लगी रही

जहां पर महिलाओं और पुरुषों की काफी भीड़ देखी गई। रामपुर गंगा घाट के अलावा जिले के सीतामढी, बारीपुर, कलिंजरा, सेमराध, इब्राहिमपुर, गोपालपुर, बेरासपुर, बिहरोजपुर और गुलौरी गंगा घाट पर भी स्नानार्थियों की भीड लगी रही।

Comments