सर्विलांस टीम: चोरी के मोबाइल कहां से होते हैं बरामद

सर्विलांस टीम: चोरी के मोबाइल कहां से होते हैं बरामद

सर्विलांस टीम: चोरी के मोबाइल कहां से होते हैं बरामद
पुलिस कर रही लम्बा खेल, लेन-देन के लगते हैं आरोप

ललितपुर।Ravi Shankar sen

सर्विलांस टीम इन दिनों चोरी व खोये मोबाइल में बड़ा खेल कर रही है। बिना सुविधा शुल्क के यहाँ कुछ भी नहीं होता है।

जो मोबाइल मिल जाते हैं, उन्हें तो दे दिये जाते हैं, किन्तु जिनसे मोबाइल बरामद हुये हैं, उनका कभी खुलासा नहीं किया जाता है। सूत्रों की मानें तो पुलिस उन लोगों से भय दिखाकर मोटी रकम वसूल रहे हैं। इस खेल में कोतवाली पुलिस भी शामिल है। 


आधुनिक युग में नई टैक्नोलॉजी के जरिये, हो रहे क्राइम को रोकने के पुलिस ने आईटी सैल की स्थापना की है। इसी के अन्तर्गत सर्विलांस टीम का गठन किया गया है। हालही में लोगों के पास महंगे मोबाइल फोन रखने का शौक हो गया है। लापरवाही व हादसे में उनके मोबाइल गुम या चोरी हो जाते हैं। तो इसकी शिकायत पुलिस को की जाती है, इन मोबाइल को खोजने की जिम्मेदारी पुलिस अधीक्षक द्वारा सर्विलांस के ऊपर सौंपी गयी।

मोबाइल फोन खोजने के लिए सर्विलांस टीम अपना आधुनिक जाल फैला देती है। उन्हें मोबाइल भी बरामद हो जाता है, किन्तु किसके पास से मोबाइल प्राप्त हुआ या फिर किसके पास से उसने मोबाइल फोन खरीदा। यह बात आज तक प्रकाश में नहीं आयी है। चूँकि मोबाइल फोन जब ही खोजा जा सकता है। जबकि वह सिम के साथ चालू हो। बस मोबाइल फोन बरामद तो दिखा दिया जाता है, लेकिन किस पास से बरामद हुआ यह आज तक रहस्य बना हुआ है।

यही नहीं उन्हीं लोगों के मोबाइल फोन बरामद होता है, जो सुविधा शुल्क देते हैं। अभी भी कई पीडि़त ऐसे है, जिनके मोबाइल का पता ही नहीं है। सूत्रों की मानें तो जिन लोगों से मोबाइल बरामद होते हैं, उनसे मोटी रकम बसूली जाती है। भय दिखाने के लिए इस खेल में कोतवाली पुलिस भी शामिल होती है।

पुलिस द्वारा यह खेल लम्बे समय से खेला जा रहा है। आलाधिकारी को भी इस खेल पूरी जानकारी है, अगर यह कहा जाये तो गलत नहीं होगा कि आलाधिकारियों की मौन स्वीकृति से यह खेल चल रहा है।

 

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments