जिले में जलनिगम की लापरवाही के चलते पेयजल संकट

जिले में जलनिगम की लापरवाही के चलते पेयजल संकट

हमीरपुर :

जिले में जलनिगम की लापरवाही के चलते पेयजल संकट गहरा चुका है। पेयजल संकट के निदान हेतु हाल ही में जल निगम द्वारा धौहल,बंगरा गांव में ही मेंटीनेंस पर करोड़ों रुपये खर्च कर दिए  बावजूद गांव में पीने के  पानी का संकट बना हुआ है

केंद्र और प्रदेश सरकार पेयजल की किल्लत को लेकर सख्त है लेकिन सरीला ब्लाक के बंगरा,धौहल बुजुर्ग गांव पर प्रशासन द्वारा कोई सख्त रवैया नही अपनाया गया है। फलस्वरूप भीषण पेयजल संकट के बाद भी जल निगम दो गांव पर ही करोड़ों रुपये मेंटिनेंस पर खर्च कर कागजों में ही समस्याओं का निस्तारण करने में लगा है।  पेयजल संकट को लेकर तमाम दावे जो कागजों में अंकित है, पर जमीनी हकीकत कुछ और है। पेयजल संकट को लेकर जल निगम का रवैया यही रहा। तो भीषण पेयजल किल्लत से मुक्ति मिलना मात्र सपना होगा।वही गांव का  निरीक्षण कर बीडियो ने भी माना कि गांव मे पानी नही पहुंच रहा।

धौहल गांव के ग्रामीणों का आरोप है कि योजना सुचारु रुप से नही चल रही इसके बाद भी जल निगम के अधिकारिओं के साथ ग्राम प्रधान  मिली भगत कर योजना ग्राम पंचायत पर स्थानांतरित कि जा रही है जबकी गांव मे जर्जर पाइप लाइन पड़ी हुई है ऐसी स्थित मे योजना का स्थानांतरण नही किया जाना चाहिये

"मुझे निर्देश मिला था कि धौहल बुजुर्ग,बंगरा पेयजल योजना ग्राम पंचायत  मे हैंडओवर होनी है पिछली बार जो टीमें बनाई गई थी उसी आख्या के आधार पर गांव मे पहुंच कर उन्हीं पॉइंट को फिर से देखा और पाया गया कि गांव मे सभी जगह पानी नहीं पहुंच रहा है"
'राम सिंह अहिरवार- (खंड विकास अधिकारी सरीला)

"हमारी योजना सुचार रूप से चल रही है सभी लोग टोटिया लगाएं जहां पानी नहीं पहुंचेगा वहां पर कार्य किया जाएगा"
सुमित नारायण जेई

Comments