गैस गोदाम में गैस रिसाव से लगी आग, मची अफरा-तफरी ।

गैस गोदाम में गैस रिसाव से लगी आग, मची अफरा-तफरी ।

गैस गोदाम में गैस रिसाव से लगी आग, मची अफरा-तफरी ।

उमेश दुबे (रिपोर्टर )

भदोही। आज जनपद भदोही मे औराई भदोही मार्ग पर थाने से चंद कदम दूर गुरुवार की गैस रिसाव के चलते लगी आग से अफरा-तफरी मच गई। जिस कमरे में आग लगी थी उसके बगल दूसरे कमरे दो दर्जन कमर्शियल सिलेंडर भी रखे गए थे। संयोग अच्छा था कि समय से फायर ब्रिगेड की गाड़ी पहुंच गई जिससे बड़ा हादसा टल गया। इस भयानक आग से जहां एक घंटे तक अफरा-तफरी का माहौल रहा जिले भर की पुलिस हलकान रही।

मौके पर ज्ञानपुर भदोही से फायर ब्रिगेड की गाड़ियों को बुलाना पड़ा । इस दौरान आवागमन भी कुछ देर के लिए रोक दिया गया था। औराई थाने से लगभग दो किलोमीटर दूर नरथुंआ गांव के बाबा जायसवाल का मकान बना हुआ है। मकान मे उनका परिवार नहीं रहता शटरिंग और मिस्त्री का कार्य करने वाले कुछ कारीगर अपने परिवार के साथ किराए पर रहते हैं। किरायेदारों मे एक महिला गैस सिलेंडर पर चाय बना रही थी। चाय बनाते समय गैस की टंकी में लीकेज आग ने पकड़ लिया।

आनन-फानन में किराएदार कमरे से निकलकर बाहर भाग खड़े हुए। आग लगने जानकारी पर औराई अग्निशमन केंद्र से पहुचे फायर ब्रिगेड के लोग उस समय बेबस हो गये जब फायर ब्रिगेड की बड़ी गाड़ी कमरे तक नही पहुच पाई । एक छोटी गाड़ी किसी तरह मकान के पिछले हिस्से में ले जाया गया और आग बुझाने का काम खिड़की और रोशनदान से शुरू किया गया। जिस कमरे में आग लगी थी उसके बगल वाले कमरे में लगभग दो दर्जन कामर्शियल गैस भरे हुए सिलेंडर रखे गए थे।

जिससे वहां पर मौजूद लोग बेचैन हो गए कि कहीं सिलेंडर में आग पकड़ा तो बड़ी तबाही मच जाएगी। सूचना पर पुलिस क्षेत्राधिकारी लेखराज सिंह कोतवाल एसएन मिश्रा मौके पर पहुंचे और वहां की भयावह स्थिति को देखते हुए ज्ञानपुर भदोही से भी फायर ब्रिगेड की गाड़ियों को बुला लिया। एक घंटे की अथक प्रयास के बाद फायर ब्रिगेड के लोगो ने आग पर काबू पा लिया। संयोग यह था कि बगल वाले कमरे में रखे कमर्शियल सिलेंडर पूरी तरह गर्म तो हो गए थे किंतु उसमें आग नहीं पकड़ पाई थी। जिससे लोगों ने राहत की सांस ली। पुलिस अवैध भंडारण किए हुए गैस सिलेंडरों को अपने कब्जे में लेकर मामले की जांच कर रही है। पुलिस क्षेत्राधिकारी लेखराज सिंह ने बताया स्थिति बड़ी भयावह थी।

अगर गैस सिलेंडर में आग पकड़ती तो जितने भी सिलेंडर रखे गए थे बिना सभी फटे हुए आग नहीं बुझती, और यह पूरा का पूरा मकान धराशाई हो जाता और आसपास के भी लोगों का नुकसान होता। अब इन गैस सिलेंडरों को पुलिस कब्जे में लेकर जांच करेगी कि आखिर यह गैस सिलेंडर यहां कैसे रखे गए और किसके हैं।

Comments