नई बस्ती मोहल्ले में खुले चेंबर में गिरी महिला, हुई  घायल

नई बस्ती मोहल्ले में खुले चेंबर में गिरी महिला, हुई  घायल

नई बस्ती मोहल्ले में खुले चेंबर में गिरी महिला, हुई  घायल

लोगों ने पानी भरे सड़क पर रुक कर की नारेबाजी

मुहल्ले वासियों ने जिलाधिकारी से मुहल्ले की दशा में सुधार कराने की लगाई गोहार


उमेश दुबे (रिपोर्टर )

भदोही। नगर के वार्ड 11 आलमपुर के नई बस्ती की हालत बेहद खराब है। ऐसा लगता है कि नगर पालिका परिषद ने इस मोहल्ले को लावारिस हालत में छोड़ दिया है। तभी तो यहां का विकास नहीं हो रहा है। इस मौसम में भी वहां के सड़क पर पानी लगा हुआ है। शनिवार को पानी भरे सड़क पर जाते समय एक महिला का पैर खुले चेंबर में चला गया और वह घायल हो गई।
इस मोहल्ले में पूर्व सभासद हफिजुल्लाह शाह के मकान के बगल में व ठीक सामने से जाने वाले रास्ते में हमेशा पानी लगा रहता है। बारिश के मौसम में पानी लगे तो समझ में आता है। लेकिन बिन बारिश के ही ऐसे मौसम में पानी लगना समझ में नहीं आ रहा है। यह समस्या काफी समय से है और इसकी शिकायत वहां के लोगों ने नगर पालिका परिषद से भी की। लेकिन आज तक कोई समाधान नहीं किया जा सका। नगर पालिका परिषद पूरी तरह से लापरवाही पर उतारू हैं और उनके द्वारा निर्माण कार्य में भेदभाव बरती जा रही है। मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्र होने के कारण इसका ध्यान नही दिया जा रहा है। आज भी वहां पर पानी लगा हुआ है।
सुबह के समय सहाना बेगम नामक एक महिला उस पानी भराव वाले रास्ते से गुजर रही थी। तभी उसका एक पैर खुले चेंबर में चला गया और वह घायल हो गई। हालांकि पास पड़ोस के लोगों ने किसी तरह महिला को वहां से निकाल कर उपचार के लिए ले गए। लेकिन कुछ देर तक लोग इसके लिए नगर पालिका परिषद अध्यक्ष अशोक कुमार जायसवाल को कोसते रहे। साथ ही वहीं पर खड़े होकर लोगों ने नगर पालिका परिषद मुर्दाबाद और नपा अध्यक्ष अशोक कुमार जायसवाल मुर्दाबाद के नारे लगाए। लोगों ने कहा कि मोहल्ले के लोग नगर पालिका परिषद की लापरवाही के कारण नारकीय जीवन जीने को मजबूर हैं। वहीं मुहल्ले वासियों ने जिलाधिकारी का ध्यान आकृष्ट कराते हुए मुहल्ले की दशा पर तरस खाने की लगाई गुहार।

Comments