आरोपों से घिरे नेता ईमानदार प्रधानमंत्री पर लगा रहे हैं आरोप : डा दिनेश शर्मा 

आरोपों से घिरे नेता ईमानदार प्रधानमंत्री पर लगा रहे हैं आरोप : डा दिनेश शर्मा 

पंकज सिंह यादव

लखनऊ:- उत्तर प्रदेश सरकार के उपमुख्यमंत्री डा दिनेश शर्मा ने  चुनावी जनसभाओं में कांग्रेस सपा व बसपा पर करारे प्रहार किए हैं। उन्होंने कहा कि सपा बसपा व कांग्रेस की अकेले चुनाव लड़ने की हैसियत नहीं है,वह मोदी जी का अकेले मुकाबला नही कर सकते।  सपा बसपा को अवसरवादी गंठबंधन बताते हुए उन्होंने कहा कि  सपा मुखिया ने तो  अपनी पार्टी के संस्थापक का ही तख्ता पलट दिया।

राफेल को लेकर कांग्रेस के आरोपों पर पलटवार करते हुए डा शर्मा ने कहा कि जिनका पूरा परिवार जमानत पर है वे देश के ईमानदार प्रधानमंत्री पर आरोप लगा रहे हैं।  वे प्रधानमंत्री के खिलाफ अमर्यादित भाषा का प्रयोग कर रहे हैं। उन्होंने  लोगों से कहा कि कहा कि प्रधानमंत्री पर आरोप लगाने वालों को बताना है कि गली गली में शोर है , एक बात श्योर है, हमारा पीएम प्योर है, कहने वाला ? इस पर जनता की ओर से जवाब आया चोर है। उन्होंने पार्टी प्रत्याशी की जीत का नारा लगवाते हुए कहा कि हाथ के पंजे ने देश को लूटा है व बर्बाद किया  तथा देश मेें भ्रष्टाचार किया है।

 

विभन्न प्रकार के आपराधिक कृत्यों को जन्म दिया है।  उन्होंने कहा कि चुनाव के बाद मोदी जी का प्रधानमंत्री बनना तय है। सपा बसपा व कांग्रेस  केवल मोदी जी  को रोकने के लिए ही  चुनाव लड रहे हैं। उन्होंने कहा कि एक ओर मोदी जी है जिनका परिवार कोई अन्यथा लाभ नहीं ले रहा है  दूसरी और ऐसे वंशवादी दल है जिनके  सदस्य लाभ व पद के लिए ही है। विरोधियों पर परिवारवाद का आरोप लगाते हुए उन्होंने  कहा कि अब तो बहनजी ने भी भतीजे को बुला लिया है जबकि भाजपा में किसी को नहीं पता है कि अगला अध्यक्ष कौन होगा।  डा. शर्मा ने कहा कि लोकसभा का चुनाव  देश का भाग्य लिखने वाला चुनाव है। इस चुनाव में दो तरह की ताकतें काम कर रही है।

एक तरफ वो लोग हैं जो  धारा 370 के समाप्त होने पर कश्मीर के देश से अलग होने की बात करते हैं। कांग्रेस के एक मित्र तो  कश्मीर में अलग वजीरे आजम की भी बात करते हैं। उन्होंने कांग्रेस , नेशनल कांफ्रेस सहित विरोधी दलों को चेताते हुए कहा कि यह देश राष्ट्रभक्तों का है । देश विरोधी बात करने वाले  लोगों की तमाम पीढियां भी आ  जाएं तो भी कश्मीर को देश से अलग नहीं कर सकती हैं। उन्होंने कहा कि पहले आतंकी आते थे और देश में  घटना को अंजाम देकर भाग जाते थे ।

 

देश में मुम्बई से लेकर अयोध्या और काशी में आतंकी वारदाते हुई पर  उस समय के प्रधानमंत्री सफेद कबूतर उडाते थे तथा पाकिस्तान को प्रेम का संदेश दिया जाता था, जिसके बदले में पाकिस्तान गोली चलाता था। आंवला , फतेहपुर सीकरी , मैनपुरी में आयोजित विशाल जनसभाओं को सम्बोधित करते हुए डा शर्मा ने कहा कि अब वह समय  नहीं हैं  अब प्रधानमंत्री कहते हैं कि गले लगाएंगे पर अगर गला काटने का प्रयास भी किया तो घर में घुसकर मारेंगे। उन्होंने कहा कि  एक समय था जब नार्थ ईस्ट में आतंकी सडक़ व पुल आदि के निर्माण को रोक देते थे तथा देश में नहीं रहने के नारे लगवाते थे।

 

सत्ता में आते ही  केन्द्र की मोदी सरकार ने इन  आतंकियों के बारे में जानकारी जुटाने के बाद सेना को मयांनमार भेजकर उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की व उनका सफाया किया। यह हमारा नया हिन्दुस्तान है। उन्होंने विरोधियों पर सम्प्रदाय , क्षेत्र व जाति की राजनीति करने का आरोप लगाते हुए कहा कि चुनाव आया तो इन्होंने महागठबंधन बना लिया।  इसके बाद जब सारे दल भाग गए तो यह गठबंधन रह गया।  जब गठबंधन की गांठ खुलने लगी तो यह मजबूरी का बंधन रह गया। उन्होंने  कहा कि हार का डर तो कुछ इस प्रकार पहले से ही  विपक्षियों के ऊपर छाया है कि बसपा की नेत्री  सम्प्रदाय विशेष से केवल गठबंधन  को ही वोट करने  की अपील करती है।

 

ये ऐसे लोग हंै जो जाति और सम्प्रदाय की राजनीति करते हैं जबकि  मोदी जी सबका साथ सबका विकास की बात करते हैं। प्रधानमंत्री सभी के विकास के लिए काम करने की बात करते हैं। उन्होंने कहा कि पिछले चुनाव में यह सभी दल अलग अलग लडे थे।   2014 के चुनाव में सपा में ससुर जी , बहूजी, देवर जी   जैसे  केवल चार लोगों को सीट मिली जबकि कांग्रेस में मां और बेटा को मिलाकर दो सीट ही मिली थी।  हिन्दुस्तान के चुनाव में  2014 में पहली बार एक करिश्मा हुआ कि उत्तर  प्रदेश में  हाथी ने अंडा दे दिया था।  उन्होंने कहा कि आज केन्द्र की मोदी सरकार द्वारा जनहित में किए गए कार्यों  से घबराए हुए विरोधी सिर्फ इस बात के लिए एक हो रहे हैं  कि मोदी जी को दोबारा आने से रोका जा सके।

 

उन्होंने कहा कि इसके पूर्व में चुनाव   बिजली, पानी , सडक , आवास जैसे मुद्दों को लेकर होते थे पर अब यह मुद्दे गायब हैं क्योंकि केन्द्र की सरकार ने इनका पुख्ता इंतजाम किया है। डा शर्मा ने कहा कि कांग्रेस के  एक प्रधानमंत्री कहते थे कि 100 रूपए जो केन्द्र सरकार भेजती है उसमें से मात्र 15 रुपए ही जनता तक पहुचते है 85 प्रतिशत पैसा भ्रष्टाचार की भेंट चढ जाता है। पर मोदी सरकार में इस भ्रष्टाचार की कोई जगह नहीं हैं और पूरा का पूरा 100 रुपए जनता के खाते में पहुच रहा है।  विपक्षी दलों को  काम के आधार पर आरोप लगाने की  खुली चुनौती देते हुए उन्होंने कहा कि इन लोगों के पास आज कहने के लिए कोई विषय ही नहीं बचा है।

 

उन्होंने कहा कि विरोधी जब सम्प्रदाय की बात करेंगे तो किया की प्रक्रिया हो सकती है। उन्होंने  लोगों से जातिवाद से ऊपर उठने की अपील करते हुए कहा कि दुनिया आपकी ओर देख रही है। एक तरफ मोदी जी है तो दूसरी ओर यह सारी कौरवों की सेना है। उन्होंने कहा कि आवंला पाण्डवों  की धरती है  इसलिए यहां के लोगों को न्याय का साथ देते हुए कौरवी सेना को पराजित करना है। उन्होंने कहा कि यह चुनाव एक यज्ञ है और इसमें एक उंगली से कमल के फूल वाले बटन को दबाकर आहुति देनी है।   उन्होंने आंवला में पिछली सपा सरकार पर केन्द्र सरकार की योजनाओं को  जनता तक न पहुचने देने का आरोप लगाया है। उनका कहना था कि सपा सरकार नाम की चाह में ऐसा करती थी। वह योजनाओं के नाम के आगे समाजवादी शब्द का प्रयोग करना चाहती थी।  भगवान पाश्र्वनाथ की तपोस्थली आंवला में उन्होंने कहा कि  अन्याय  पर न्याय की विजय  का संदेश देने वाले इस क्षेत्र के साथ दो साल पहले की सपा सरकार में अन्याय हुआ है।

 

वह एक ऐसी सरकार थी जो केन्द्र सरकार की लोककल्याण की योजनाओं को जनता तक पहुचने में अडंगा डालती थी। उन्होंने कहा कि भाजपा के सांसद धर्मेन्द्र कश्यप ने लोकसभा में सपा सरकार की इन काली करतूतों को खुलासा किया था। पिछली सपा सरकार केन्द्र सरकार की योजनाओं के पैसे को कही और लगा देती थी।

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments