वैदिक सरस्वती शिशु मंदिर के प्रबंधक गयादीन प्रजापति को भेजा जेल

वैदिक सरस्वती शिशु मंदिर के प्रबंधक गयादीन प्रजापति को भेजा जेल

मुख्यालय स्थित एक विद्यालय के प्रबंधक द्वारा सात वर्षीय मासूम छात्रा के साथ दुष्कर्म किया गया था। जिसके बाद प्रबंधक को जेल भेज दिया गया। वहीं विद्यालय के खिलाफ जांच कमेटी गठित करते हुए नोटिस भेजकर समय रहते विद्यालय के दस्तावेज उपलब्ध कराने को कहा गया था। लेकिन विद्यालय के दस्तावेज उपलब्ध न कराने पर बेसिक शिक्षा अधिकारी सतीश कुमार ने इस स्कूल की मान्यता रद कर दी है।

शहर के वैदिक सरस्वती शिशु मंदिर के प्रबंधक गयादीन प्रजापति द्वारा विद्यालय की सात वर्षीय छात्रा के साथ दुष्कर्म करने की घटना हुई थी। जिसका मुकदमा दर्ज करते हुए प्रबंधक को जेल भेज दिया गया। सीओ ने विद्यालय की जांच करते हुए बीएसए को पत्र लिखा था। जिसके आधार पर बेसिक शिक्षा अधिकारी सतीश कुमार ने विद्यालय को नोटिस भेजकर समय से स्कूल संबंधी सारे कागजात उपलब्ध कराने के निर्देश दिए थे। लेकिन नोटिस के बाद जब बीएसए कार्यालय में कोई कागजात दिखाने नहीं पहुंचा तो उन्होंने एबीएसए श्याम प्रकाश यादव को स्कूल की जांच के लिए भेजा।

जहां पर एबीएसए ने एक भी दस्तावेज नहीं पाए। एबीएसए की रिपोर्ट के आधार पर बेसिक शिक्षा अधिकारी सतीश कुमार ने रमेड़ी स्थित वैदिक सरस्वती शिशु मंदिर विद्यालय की मान्यता को रद कर दिया है। उन्होंने बताया कि स्कूल में निरीक्षण के दौरान मान्यता संबंधी कोई अभिलेख नहीं मिले थे और स्कूल के शिक्षकों ने बताया कि जांच करने आई पुलिस अभिलेख ले गई है जो कि गलत है। इस आधार पर कार्रवाई की गई है।

Comments