नेहरू जी बच्चों को भगवान का रूप मानते थे:सुधारनी

नेहरू जी बच्चों को भगवान का रूप मानते थे:सुधारनी

लखनऊ

बाल दिवस के अवसर पर रिक्शा कॉलोनी सेक्टर एम आशियाना कानपुर रोड लखनऊ में मन फाउंडेशन तथा महिला कल्याण विभाग की जिला बाल संरक्षण इकाई के तत्वाधान में पंडित जवाहरलाल नेहरू के जन्म दिवस के अवसर पर बाल दिवस का धूमधाम से आयोजन किया गया।

कार्यक्रम में रिक्शा कॉलोनी के बच्चे शुभ श्रीवास्तव,वैष्णवी,शुभांशु थापा,मानसी गुप्ता,अनु पांडे,चांदनी,लक्ष्मी,मुस्कान ने बच्चों के लिए गीत गाए।शुभ श्रीवास्तव को चाचा नेहरू की उपाधि दी गई।मन फाउंडेशन की संरक्षिका श्रीमती सुधा रानी ने कार्यक्रम में उपस्थित समस्त अतिथियों व बच्चों का स्वागत किया।

बच्चों के लिए बताया कि सभी बच्चे खूब पढ़ाई करें और बड़ों का आदर करें अपने कर्तव्य से आसमान की ऊंचाइयों तक जाए।बच्चों के प्रेरणा स्रोत चाचा नेहरू सदैव बच्चों को भगवान का अवतार मानते थे।उन्हें बच्चे बहुत प्रिय थे

कार्यक्रम की मुख्य अतिथि महिला कल्याण की बाल संरक्षण इकाई के संरक्षण अधिकारी श्रीमती आसमा जुबेर ने महिला कल्याण की योजनाओं के बारे में सभी बच्चों को जागरूक किया।

कन्या सुमंगला योजना बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना के बारे में विस्तार से चर्चा की कार्यक्रम में बृजेश द्विवेदी, मनोज वर्मा,विकास त्रिवेदी,संदीप तिवारी,अनुज सिंह,राजावत,संतोष वर्मा,राजकुमारी व पूजा आदि उपस्थित रहे।मन फाउंडेशन के अध्यक्ष बृजेश द्विवेदी द्वारा अंत में सभी का आभार व्यक्त कर कार्यक्रम का समापन किया तथा सभी बच्चों को समोसा व टॉफी का वितरण किया।

 

 

Comments